PMC बैंक के खाताधारक की दिल का दौरा पड़ने से मौत, अकाउंट में जमा थे 90 लाख रुपये

खाताधारक संजय गुलाटी मुंबई में बैंक के खिलाफ प्रदर्शन करने के बाद घर लौटे थे.

पंजाब एंड महाराष्ट्र को-आपरेटिव (पीएमसी) बैंक में पैसा डूबने से सदमे में आए एक शख्स की मौत हो गई है. मृतक का नाम संजय गुलाटी है. गुलाटी मुंबई में बैंक के खिलाफ प्रदर्शन करने के बाद घर लौटे थे. घर पर अचानक उन्हें हार्ट अटैक आ गया. इसके बाद गुलाटी को अस्पताल लेकर जाया गया, जहां पर डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

51 साल के संजय गुलाटी के खाते में 90 लाख रुपये जमा थे. रिपोर्ट के मुताबिक, गुलाटी की पहले जेट एयरवेज से नौकरी चली गई थी, और अब सभी जमा पूंजी फंस गई थी. गुलाटी इसका सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाए.

‘गुलाटी की मौत के लिए PMC जिम्मेदार’
संजय गुलाटी के परिवारवालों ने बताया कि उन्हें व्यापार के लिए रुपयों की जरूरत थी. इसी वजह से वो कई दिनों से परेशान थे. गुलाटी को कई दिनों से घाटे का सामना करना पड़ रहा था. वे अवसाद में चले गए थे. घरवालों का कहना है कि गुलाटी की मौत के लिए पीएमसी पूरी तरह से जिम्मेदार है.

वहीं, भारतीय रिजर्व बैंक ने पीएमसी बैंक के बचत खाताधारकों के लिए छह माह में निकासी की सीमा 25,000 रुपये से बढ़ाकर 40,000 रुपये कर दी. यह तीसरा मौका है जब रिजर्व बैंक ने पीएमसी के ग्राहकों के लिए प्रति खाता निकासी की सीमा बढ़ाई है.

ये भी पढ़ें-

बालाकोट में 45-50 आतंकियों को ट्रेनिंग दे रहा पाकिस्‍तान, कैंप में सुसाइड बॉम्‍बर्स भी शामिल

तिहाड़ जेल में 10 दिन गुजार चुके हैं अर्थशास्त्र का नोबेल पाने वाले अभिजीत बनर्जी

डॉ. अंबेडकर की राह पर मायावती; पढ़िए, बाबा साहब ने क्यों अपनाया था बौद्ध धर्म?