महाराष्ट्र को 125 श्रमिक ट्रेन देने के लिए तैयार, पैसेंजर्स की लिस्ट भेजे राज्य सरकार: पीयूष गोयल

पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने कहा, "डेढ़ घंटे हो गए हैं, लेकिन महाराष्ट्र सरकार ने मध्य रेलवे के महाप्रबंधक को कल की नियोजित 125 ट्रेनों के बारे में जानकारी नहीं दी है."
Rail Minister Piyush Goyal, महाराष्ट्र को 125 श्रमिक ट्रेन देने के लिए तैयार, पैसेंजर्स की लिस्ट भेजे राज्य सरकार: पीयूष गोयल

कोरोनावायरस (Coronavirus) लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों की घर वापसी के लिए चलाई जा रही स्पेशल ट्रेनों पर राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है. रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने एक के बाद एक कई ट्वीट्स करके महाराष्ट्र (Maharashtra) की उद्धव सरकार पर तंज कसा है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

‘हम प्रतीक्षा कर रहे’

पीयूष गोयल ने कहा, “मेरा अनुरोध है कि महाराष्ट्र सरकार अभी भी अगले एक घंटे में कितनी ट्रेन, कहां तक और पैसेंजर लिस्टें हमें भेज दे. हम प्रतीक्षा कर रहे हैं और पूरी रात काम कर कल की ट्रेनों की तैयारी करेंगे. कृपया पैसेंजर लिस्टें अगले एक घंटे में भेज दें.”


उन्होंने ट्वीट किया, “रात के 12 बज चुके हैं और 5 घंटे बाद भी हमारे पास महाराष्ट्र सरकार से कल की 125 ट्रेनों की डिटेल्स और पैसेंजर लिस्टें नहीं आयी हैं. मैंने अधिकारियों को आदेश दिया है फिर भी प्रतीक्षा करें और तैयारियां जारी रखें.”

‘125 ट्रेनों के बारे में जानकारी नहीं दी’

पीयूष गोयल ने कहा, “डेढ़ घंटे हो गए हैं, लेकिन महाराष्ट्र सरकार ने मध्य रेलवे के महाप्रबंधक को कल की नियोजित 125 ट्रेनों के बारे में जानकारी नहीं दी है.”

इससे पहले रेल मंत्री ने कहा कि ‘कल हम महाराष्ट्र को 125 श्रमिक स्पेशल ट्रेन देने के लिए तैयार हैं. बताया जा रहा है कि उनके पास श्रमिकों की लिस्ट तैयार है. इसलिए अनुरोध है सभी निर्धारित जानकारी जैसे, कहां से ट्रेन चलेगी, यात्रियों की ट्रेनों के हिसाब से सूची, उनका मेडिकल सर्टिफिकेट और कहां ट्रेन जानी है, यह सब सूचना अगले एक घंटे में मध्य रेलवे के महाप्रबंधक को पहुंचाने की कृपा करें, जिससे हम ट्रेनों की योजना समय पर कर सकें.’


पीयूष गोयल ने कहा, “उम्मीद है कि पहले की तरह ट्रेन स्टेशन पर आने के बाद वापस खाली नहीं जाएगी. जितनी ट्रेनें चाहिए, वो उपलब्ध होंगी. टीवी के माध्यम से पता चला की महाराष्ट्र सरकार ने 200 ट्रेनों की लिस्ट भारतीय रेल को देने का दावा किया है, लेकिन कल चलने वाली एक भी ट्रेन के यात्रियों की लिस्ट जीएम मध्य रेल के पास फॉलोअप के बाद भी नहीं आई हैं. आपसे आग्रह है कि लिस्ट जल्द दें.”

संजय राउत का जवाबी तंज

वहीं, शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने ट्वीट करके कहा, “महाराष्ट्र सरकार ने रेल मंत्रालय को वांछित ट्रेनों की एक सूची सौंपी है. बस यही निवेदन है कि ट्रेन को उस स्टेशन तक पहुंचना चाहिए जहां उसे पहुंचना है, गोरखपुर से छूटने वाली ट्रेन उड़ीसा तक नहीं पहुंचनी चाहिए.”

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी साधा निशाना

दूसरी तरफ, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी केंद्र सरकार पर लगातार निशाना साध रहे हैं. रविवार को ठाकरे ने एक बयान में कहा कि प्रवासी मजदूरों को उनके गांव भेजने के लिए केंद्र की ओर से एक फूटी कौड़ी नहीं आई है, महाराष्ट्र सरकार इस काम में करोड़ों रुपये खर्च कर चुकी है.

उद्धव ठाकरे ने कहा कि केंद्र ने जीएसटी के पैसे भी अब तक नहीं दिए हैं. श्रमिकों को उनके गांवों तक पहुंचाने के लिए रेलवे को किराये के जो पैसे देने थे, वह भी नहीं मिले हैं. ऐसे में भी कुछ लोग राजनीति कर रहे हैं, लेकिन हम अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts