बढ़ने वाली हैं शिवसेना के दो दिग्‍गज नेताओं की मुश्किलें, पार्टी ने कहा- इस्‍तीफे के लिए तैयार रहो

हाल ही में विधायक रविंद्र वायकर को सीएम दफ्तर में चीफ कॉर्डिनेटर और सांसद अरविंद सावंत को राज्य सरकार में कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया है. बीजेपी ने इन पर 'ऑफिस ऑफ प्रॉफिट' का आरोप लगाया है.
shiv sena MP Arvind Sawant MLA Ravindra Waikar, बढ़ने वाली हैं शिवसेना के दो दिग्‍गज नेताओं की मुश्किलें, पार्टी ने कहा- इस्‍तीफे के लिए तैयार रहो

शिवसेना के दो दिग्गज नेताओं की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं. सूत्रों के मुताबिक शिवसेना ने अपनी पार्टी के विधायक रविंद्र वायकर और सांसद अरविंद सावंत से इस्तीफे तैयार रखने को कहा है. जरूरत पड़ने पर ये इस्तीफे पार्टी की तरफ से स्वीकार किए जाएंगे.

‘ऑफिस ऑफ प्रॉफिट’ का आरोप

दरअसल, हाल ही में रविंद्र वायकर को सीएम दफ्तर में चीफ कॉर्डिनेटर और अरविंद सावंत को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया है. बीजेपी ने इन पर ‘ऑफिस ऑफ प्रॉफिट’ का आरोप लगाया है और इसे आगामी बजट सेशन में उठाने का मन बनाया है.

बीएमसी सूत्रों के मुताबिक आदित्य ठाकरे ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए अधिकारियों से जानकारी मांगी है कि इन नेताओं के अपॉइंटमेंट्स ‘ऑफिस ऑफ प्रॉफिट’ तहत आते हैं या नहीं.

दिग्गज हैं दोनों नेता

बता दें कि अरविंद सावंत केंद्र सरकार में शिवसेना के कोटे से मंत्री थे. हालांकि, जब महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना में तकरार हुई थी तो उन्होंने केंद्र में मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था.

वहीं महाराष्ट्र में जब बीजेपी सरकार थी तब रविंद्र वायकर के पास गृहनिर्माण राज्यमंत्री का पद था. उन्होंने मुंबई में गृह निर्माण की कई पॉलिसी को सरल करने का काम अपने कार्यकाल के दौरान किया. इसके अलावा वे 20 साल तक मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) में नगरसेवक भी रह चुके हैं.

ये भी पढ़ें-

CAA, NPR, NRC: उद्धव ठाकरे ने बताया महाराष्‍ट्र में क्‍या लागू करेंगे और क्‍या नहीं

नृपेंद्र मिश्र को मिली अयोध्या में राम मंदिर बनाने की जिम्मेदारी, पढ़ें- क्यों हैं पीएम मोदी की पहली पसंद

Related Posts