‘ट्रंप ने मिठाई की जगह कड़वा करेला भिजवाया’, सामना के जरिए बोली शिवसेना

सामना में लिखा, ''किसी भी राष्ट्र का प्रमुख जब दूसरे देश की यात्रा पर जाता है तब कुछ सकारात्मक करने का रिवाज है. पुराने जमाने में राजा-महाराजाओं की ओर से मिठाई की टोकरियां भेजने का प्रचलन था.''
saamana target Trump India tour, ‘ट्रंप ने मिठाई की जगह कड़वा करेला भिजवाया’, सामना के जरिए बोली शिवसेना

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24-25 फरवरी को भारत दौरे पर आएंगे. वहीं शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के जरिए उनके दौरे को लेकर निशाना साधा है.

सामना में लिखा, ”अमेरिका ने विकासशील देशों की सूची से हिंदुस्थान का नाम हटा दिया है. विश्व व्यापार संगठन के कंधे पर बंदूक रखकर अमेरिका की व्यापार प्रतिनिधि समिति (यूएसटीआर) ने विकासशील देशों की सूची से हिंदुस्थान का नाम अलग कर दिया है. इसे हिंदुस्थान के लिए बड़ा आर्थिक झटका कहा जा सकता है.”

सामना में लिखा, ”विकासशील देश होने के नाते हिंदुस्थान को आज तक अपने उत्पादन और निर्यात के लिए अमेरिका से टैक्स में बड़ी छूट मिलती थी. अब हिंदुस्थान के अमेरिकी व्यापार को जबरदस्त झटका लगा है.”

‘करेले का पिटारा भेंट कर दिया’

सामना में लिखा, ”किसी भी राष्ट्र का प्रमुख जब दूसरे देश की यात्रा पर जाता है तब कुछ सकारात्मक करने का रिवाज है. पुराने जमाने में राजा-महाराजाओं की ओर से मिठाई की टोकरियां भेजने का प्रचलन था. वही शिष्टाचार आज भी कुछ अलग तरीके से निभाया जाता है. हालांकि अमेरिका ने इस परंपरा को तोड़ दिया है. ट्रंप ने मिठाई की जगह वैश्विक व्यापार क्षेत्र में हिंदुस्थान को झटका देनेवाले कड़वे करेले का पिटारा हिंदुस्थान को भेंट कर दिया.”

‘विश्वास जताने में कोई आपत्ति नहीं’

सामना में लिखा, ”विकसित होना शेष है और विकासशील होने के नाते मिलनेवाले लाभ भी बंद हो गए. हालांकि मोदी और ट्रंप की पक्की दोस्ती को देखते हुए ट्रंप ने विकासशील देशों का दर्जा निकाल लेनेवाला जो कड़वा करेला भिजवाया है, हमारे प्रधानमंत्री उसका मिठाई में रूपांतरण करने में सफल होंगे, ऐसा विश्वास जताने में कोई आपत्ति नहीं है!”

ये भी पढ़ें-

छुट्टियों पर देश में बने समान नागरिक कानून, ‘सामना’ में शिवसेना ने उठाई मांग

Related Posts