पुलिस की नौकरी से इस्तीफा देकर शिवसेना में शामिल हुए प्रदीप शर्मा को नालासोपारा से टिकट

प्रदीप शर्मा ने 35 साल सर्विस के बाद इसी महीने इस्तीफा दे दिया था.

मुंबई क्राइम ब्रांच के पूर्व चीफ और एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के नाम से मशहूर प्रदीप शर्मा को शिवसेना ने नालासोपारा सीट से विधानसभा टिकट दिया है. पहले ही कयास लगाए जा रहे थे कि शिवसेना प्रदीप शर्मा को नालासोपारा से उतारेगी और वैसा ही हुआ. बता दें कि शर्मा ने पुलिस की नौकरी से इस्तीफा देने के बाद 13 सितंबर को शिवसेना जॉइन की थी. उनके शिवसेना जॉइन करने पर पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा था ‘अब तक उनकी गन बोलती थी, अब मन बोल रहा है.’

35 साल पुलिस की नौकरी, फिर राजनीति

प्रदीप शर्मा ने 35 साल पुलिस सेवा को दिए. वो लगभग 150 ऐसे मामलों से जुड़े रहे जिनका संबंध गंभीर अपराधों ये अपराधियों से था. उन्होंने 113 एनकाउंटर किए थे इसीलिए लोग उन्हें एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के तौर पर जानने लगे थे. उन्हें टाइम मैगजीन ने अपने कवर पर जगह दी थी और जब उन्होंने इस्तीफा दिया तो ठाणे की एक्सटॉर्शन सेल के मुखिया थे.

प्रदीप शर्मा के करियर में कुछ विवाद भी सामने आए हैं. साल 2003 में शर्मा की हिरासत में ख्वाजा यूनुस नाम के संदिग्ध आतंकी की मौत हो गई थी. इस पर उनका ट्रांसफर कर दिया गया. 2008 में फर्जी एनकाउंटर और माफिया के साथ रिश्ते के आरोपों की वजह से उन्हें बर्खास्त किया गया. इसके लिए उन्होंने कानूनी लड़ाई लड़ी और जीत पाई, 2016 में उन्हें वापस बहाल कर दिया गया. उनका 2020 में रिटायरमेंट होना था लेकिन पहले ही इस्तीफा दे दिया.