कुछ भी खाते ही सूज जाते थे महिला के गाल, डॉक्टर्स ने की सर्जरी तो गले की नली से निकलीं 53 पथरी

डॉक्टरों का दावा है कि पैरोटिड ग्लेंड में एकसाथ इतने स्टोन मिलने और उन्हें निकालने का दुनिया में यह पहला मामला है.

66 साल की एक इराकी महिला को एक ऐसी दिक्कत आ गई, जिससे कुछ भी खाने के बाद उसके गाल सूज जाते थे. सूजन इतनी ज्यादा आ जाती थी कि घर से बाहर भी नहीं निकल पाती थीं. जांच कराई तो हैरान करने वाली बात सामने आई उनकी पैरोटिड ग्लेंड (लार ग्रंथि) में स्टोन थे. यही सूजन की वजह बन रहे थे. स्टोन भी एक-दो नहीं बल्कि 53 थे.

राजधानी दिल्ली स्थित सर गंगा राम अस्पताल के डॉक्टरों ने महिला का ऑपरेशन किया और उसकी थूक की नली से 53 पथरी निकालीं. डॉक्टरों का दावा है कि पैरोटिड ग्लेंड में एकसाथ इतने स्टोन मिलने और उन्हें निकालने का दुनिया में यह पहला मामला है.

सर्जरी करने वाली टीम के चिकित्सक और गंगाराम अस्पताल में ईएनटी के कंसलटेंट डॉ. वरुण राय ने कहा कि सबसे बड़ी चुनौती यह थी कि 3 मिमी चौड़ी नली पर कोई ज़ख्म लगे बिना सभी पत्थरों को हटा दिया जाए. पूरी प्रक्रिया में दो घंटे लगे.

पैरोटिड ग्लैंड के भीतर से 25 से अधिक पथरियों के निकालने की घटना अभी तक कहीं भी रिपोर्ट नहीं हुई है. पैरोटिड ग्रंथि में पथरी के केस दुनिया में 0.02 फीसदी से भी कम हैं. उसमें भी 53 पथरियों का निकलना दुर्लभ मामला है. महिला कुछ भी खाती थी तो पैरोटिड ग्रंथि से लार नहीं निकल पाती थी और चेहरे पर सूजन आ जाती थी. लार न निकलने देने में पथरी रुकावट बन रही थी.

ये भी पढें-

महिला ने 6 फीट लंबे शख्स से लिया स्पर्म, बौना पैदा हुआ बच्चा, तैश में आकर दर्ज किया केस

चीनी व्यक्ति के कान के अंदर मिला जीवित कॉकरोच का परिवार