ये क्या! सात साल बाद मृतक की आत्मा लेने हॉस्पिटल पहुंचे परिजन

जिस मृतक की आत्मा लेने के लिए परिजन गए थे, उसकी मौत सात साल पहले ही हो गई थी. उसकी मौत कोटा के एमबीएस अस्पताल में इलाज के दौरान हुई थी.
Today Headlines, ये क्या! सात साल बाद मृतक की आत्मा लेने हॉस्पिटल पहुंचे परिजन

बूंदी: आधुनिक भारत की ये कैसी तस्वीर है. भारत आज भले ही विकासशील देशों की सूची में शामिल हो गया है, लेकिन यहां पर अधंविश्वास का बोलबाला कम नहीं हुआ है. कहीं न कहीं, किसी न किसी रूप में ऐसी घटनाएं देखने को मिल ही जातीं हैं. कुछ ऐसा ही शिक्षा नगरी कोटा में देखने को मिला है.

एक मृतक की आत्मा लेने के लिए उसके परिजन अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में पहुंच गए. हैरान करने वाली बात यह है कि जिस मृतक की आत्मा लेने के लिए परिजन गए, उसकी मौत सात साल पहले ही हो गई थी. उसकी मौत कोटा के एमबीएस अस्पताल में इलाज के दौरान हुई थी.

मृतक हजारी लाल राजस्थान के बूंदी जिले के दुगारी के रहने वाले थे. अस्पताल आए उनके परिजनों ने बताया कि वो हजारी की आत्मा लेने आए हैं. परिजन अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड तक पहुंच गए और पूजा-पाठ करना शुरू कर दिया. पूजा के बाद मृतक के परिजन उसकी आत्मा को अपने साथ ले जाने का दावा भी करते दिखे.

बूंदी में ऐसा मामला पहले भी देखा जा चुका है. इससे पहले साल 2018 में ऐसे ही कुछ मामले सामने आए थे. इन घटनाओं को देखकर लगता है कि अंधविश्वास अपनी हदें पार करता जा रहा है.

Related Posts