सर्फ ऐक्सल के विरोध के चक्कर में ‘देशभक्तों’ ने MS Excel का ही कर दिया बायकॉट

पिछले कुछ दिनों से हिन्दुस्तान यूनीलिवर के प्रोडक्ट Surf Excel के एक विज्ञापन का काफी विरोध हो रहा है. लेकिन विरोध का आलम अब इस हत तक पहुंच गया है कि लोग Excel नाम की हर चीज का विरोध करने लगे हैं और इसी चक्कर में देशभक्तों ने MS Excel का विरोध करना शुरू कर दिया है.
surf excel ad controversy, सर्फ ऐक्सल के विरोध के चक्कर में ‘देशभक्तों’ ने MS Excel का ही कर दिया बायकॉट

नई दिल्ली : सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से हिन्दुस्तान यूनीलिवर के प्रोडक्ट Surf Excel के एक विज्ञापन का काफी विरोध हो रहा है. विज्ञापन में एक हिंदू बच्ची और मुस्लिम बच्चे की कहानी दिखाए जाने को देशभक्तों ने लव-जिहाद का ऐंगल देते हुए उसका विरोध करना शुरू कर दिया. पिछले दिनों सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर इस विज्ञापन का विरोध करने के लिए #boycottsurfexcel नाम से कैंपेन भी चलाया गया.

लेकिन विरोध का आलम ऐसा कि लोग ये देखना भी भूल गए कि सर्फ ऐक्सल के चक्कर में वे माइक्रोसॉफ्ट ऐक्सेल का विरोध करने लग गए हैं. दरअसल लोग देशभक्ति में इतने चूर थे कि आव देखा न ताव, बस जहां ऐक्सल नाम का कुछ, दिखा दबा दिया एक रेटिंग वाला बटन. गूगल प्ले स्टोर में पर Ms. Excel का मोबाइल वर्जन है जिसमें यूजर्स को रेटिंग देने का विकल्प भी मिलता है और इसी विकल्प को लोगों ने अपना हथियार बनाते हुए माइक्रोसॉफ्ट ऐक्सेल को कम रेटिंग देनी शुरू कर दी. हालांकि कुछ यूजर्स का कहना है कि उन्हें पता है कि ये सर्फ ऐक्सेल नहीं है, लेकिन फिर भी वे इसका बायकॉट कर रहे हैं, क्योंकि इसमें Excel लिखा है.

इसी के कुछ फनी स्क्रीनशॅाट आप भी देखिए – 

surf excel ad controversy, सर्फ ऐक्सल के विरोध के चक्कर में ‘देशभक्तों’ ने MS Excel का ही कर दिया बायकॉट

एक शख्स ऐसा भी था – 

surf excel ad controversy, सर्फ ऐक्सल के विरोध के चक्कर में ‘देशभक्तों’ ने MS Excel का ही कर दिया बायकॉट

वीडियो में क्या है

क़रीब एक मिनट के इस ऐड में एक हिंदू लड़की सफेद टी-शर्ट पहने और साइकिल पर बैठकर पूरी गली में घूमती है और सभी बच्चों से ख़ुद पर रंग फेंकने को कहती है. वह साइकिल लेकर गली में तब तक भागती रहती है जब तक गली के बच्चों के पूरे रंग ख़त्म नहीं हो जाते. जब सभी बच्चों के रंग खत्म हो जाते हैं तो हिंदू लड़की उस छोटे से मुस्लिम बच्चे को घर से निकल आने को कहती है. दरअसल बच्चे को नमाज़ पढ़ने जाना था इसलिए वह बच्ची सबके रंग ख़त्म कराती है और बाद में उस बच्चे को मस्जिद तक पहुंचा देती है.

बच्चा जब मस्जिद की सीढ़ियों पर चढ़ता है तो बच्ची से कहता है मैं नमाज़ पढ़कर आता हूं. जिसके जवाब में बच्ची कहती है बाद में रंग पड़ेगा.

एक मिनट के इस वीडियो की शुरुआत में कंपनी की तरफ से संदेश भी जारी किया है. संदेश में लिखा है- यह चित्रण आपसी भाईचारे को बढ़ावा देने के लिए किया गया है. होली सुरक्षित और ज़िम्मेदार तरीके से मनाएं.

यहां देखें वीडियो – 

 

Related Posts