गुरु पूर्णिमा पर ये हत्या और रेप के आरोपी बाबा क्यों होने लगते हैं ट्रेंड?

गुरु पूर्णिमा के अवसर पर 20-20 साल के लिए जेल में बंद अपराधियों को याद किया जा रहा है.

गुरु पूर्णिमा का दिन है. सुबह से ही तमाम गुरुओं को याद किया जा रहा है. पहली गुरु के रूप में माता को, फिर पिता को, फिर टीचर्स को गुरु पूर्णिमा की बधाई दी जा रही है. ट्विटर पर सुबह से ही गुरु पूर्णिमा टॉप ट्रेंड हो रही थी. लेकिन उसके नीचे आसाराम और रामपाल भी ट्रेंड हो रहा था. बाकी सारे गुरु तो ठीक हैं लेकिन क्रिमिनल केसेज़ वाले गुरुओं का स्वैग अलग है. वैसे तो गुरु पूर्णिमा पर ऐसे लोगों का वीडियो बनाने का कोई तुक नहीं था लेकिन कोई गुरु बनकर आपको ठगे, इससे पहले होशियार हो जाना चाहिए.

, गुरु पूर्णिमा पर ये हत्या और रेप के आरोपी बाबा क्यों होने लगते हैं ट्रेंड?

नीचे उन बाबाओं की लिस्ट है जो या तो जेल में हैं या जेल जा चुके हैं. बहुत से ऐसे भी हैं जो जेल नहीं गए लेकिन उनके बारे में भी समझदार लोग पाजिटिव रिएक्शन नहीं देते. लेकिन इन लिस्ट वाले नामों तो अति कर दी थी. गुरु पूर्णिमा पर इनको विश करना बहुत जरूरी है. इन्होंने गुरुघंटाल बनकर जनता के एक बड़े हिस्से को मूर्ख बनाया. गुरु-गीरी की आड़ में इन्होंने जमीन कब्जाई, अपने सेवकों की फौज बनाई, बलात्कार किए, हत्याएं कराईं. जितने धतकर्म हो सकते थे वो सब इन्होंने किए. इनमें से कुछ जेल के अंदर से एक्टिव हैं तो कुछ बाहर से, लेकिन इनका नाम बड़ा ऊंचा है.

1. आसाराम

हमारे घर में ‘ऋषि प्रसाद’ करके एक पत्रिका आती थी. गुरु महराज के चेले फोन पर हेलो नहीं ‘हरिओम’ बोलते थे. इनके फोटोज़ कोर चेलों के घर में अब भी मिल जाएंगे. लेकिन सच ये है कि आसाराम 6 साल से जोधपुर जेल में बंद हैं. 19 अगस्त 2013 को दिल्ली के कमलानगर थाने में शाहजहांपुर की लड़की ने आसाराम के खिलाफ रेप की एफआईआर लिखवाई थी.

, गुरु पूर्णिमा पर ये हत्या और रेप के आरोपी बाबा क्यों होने लगते हैं ट्रेंड?

इसके बाद आसाराम पर कई धाराओं में केस दर्ज हुआ और 31 अगस्त 2013 को मध्य प्रदेश के इंदौर में आसाराम को धर लिया गया. इसके अलावा सूरत की दो बच्चियों ने भी आसाराम पर रेप की शिकायत दर्ज कराई थी. केस के गवाहों को मरवाने का केस भी आसाराम पर चल रहा है. आसाराम बेल की अपील कर करके थक गया है लेकिन उसे अब तक बेल भी नहीं मिल सकी है.

2. नारायण साईं

, गुरु पूर्णिमा पर ये हत्या और रेप के आरोपी बाबा क्यों होने लगते हैं ट्रेंड?

नारायण साईं आसाराम का सुपुत्र है. असली नाम नारायण हरपलानी है. ये भी 2013 से ही जेल में बंद है. 6 अक्टूबर 2013 को इसके आश्रम की एक महिला ने बलात्कार का मामला दर्ज कराया था. इतना ही नहीं, नारायण साईं ने मामला दबाने के लिए थानेदार को 13 करोड़ रुपए रिश्वत में दिए थे. घूसखोर अफसर के घर से 5 करोड़ रुपए नगद और प्रॉपर्टी के कागजात बरामद किए गए थे. उसे भी अरेस्ट कर लिया गया था. नारायण साईं अपने चेलों से खुद को भगवान कहलाता था.

3. राम रहीम

गुरमीत राम रहीम सिंह इंसान उर्फ मैसेंजर ऑफ गॉड भी 2 साल से जेल में बंद है. गुरु बनकर बेवकूफ बनाने के अलावा इसने फिल्में बनाकर भी लोगों को ठगा था. इसे सीबीआई की विशेष अदालत ने 20 साल जेल की सज़ा सुनाई थी. फिलहाल ये जेल में सब्जियां उगा रहा है. इसके ऊपर लगे आरोपों की लंबी फेहरिस्त है.

, गुरु पूर्णिमा पर ये हत्या और रेप के आरोपी बाबा क्यों होने लगते हैं ट्रेंड?

2002 में एक गुमनाम चिट्ठी के जरिए राम रहीम पर रेप का आरोप लगाया गया. हाईकोर्ट ने संज्ञान लेते हुए इस केस की जांच सीबीआई को सौंपने के आदेश दिए. 2002 में ही पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या हुई थी और हत्या का आरोप राम रहीम पर लगा था. इस केस में राम रहीम जनवरी 2019 में दोषी सिद्ध किया गया. राम रहीम ने छत्रपति को इसलिए मरवा दिया था क्योंकि उन्होंने साध्वी के साथ हुए रेप की खबर छापी थी. इसके अलावा राम रहीम पर 400 साधुओं को नपुंसक बनाने और अपनी सेना बनाने का भी आरोप है.

4. रामपाल

, गुरु पूर्णिमा पर ये हत्या और रेप के आरोपी बाबा क्यों होने लगते हैं ट्रेंड?

हरियाणा के सोनीपत का रामपाल 2014 से जेल में बंद है. उसे पकड़ने में पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ी थी. अक्टूबर 2018 में रामपाल को हत्या के दो मामलों में उम्रकैद की सज़ा सुनाई गई थी. 14 नवंबर 2014 को हाईकोर्ट ने रामपाल को हत्या के एक मामले में पेश होने का आदेश दिया था. रामपाल जब हाजिर नहीं हुआ तो पुलिस ने एक ऑपरेशन चलाकर उसे आश्रम से निकाला था. रामपाल के समर्थकों और पुलिस के बीच हुई मारपीट में कुल 6 लोगों की जान गई थी.

5. नित्यानंद

बेंगलुरू के आलीशान आश्रम में रहने वाला नित्यानंद आजकल अपने साइंटिस्ट नुमा प्रवचनों की वजह से फेमस है. कुछ ही दिन पहले उसने बताया था कि उसने सूरज को 40 मिनट लेट उगने का आदेश दे दिया था. उसके पहले बताया था कि वो कोई वोकल कार्ड बना रहा है जिससे शेर, बंदर, गाय वगैरह सब संस्कृत और तमिल में बात कर पाएंगे. उसके पहले बताया था कि वो खुद एलियन है और 200 साल तक दुनिया में रहने वाला है.

, गुरु पूर्णिमा पर ये हत्या और रेप के आरोपी बाबा क्यों होने लगते हैं ट्रेंड?

इस बकैती के अलावा नित्यानंद पर रेप और ठगी के सीरियस चार्जेज लगे हुए हैं. 2010 में एक साउथ इंडियन न्यूज़ चैनल ने एक सेक्स वीडियो चलाया था जिसमें नित्यानंद को किसी लड़की के साथ देखा गया था. तभी नित्यानंद की एक पूर्व शिष्या ने चेन्नई पुलिस के पास रेप की एफआईआर दर्ज कराई थी. केस चालू हो गया था. नित्यानंद ने अपने बचाव में कहा था कि वो नपुंसक है इसलिए रेप नहीं कर सकता. 2014 में हाईकोर्ट ने उसकी नपुंसकता का टेस्ट कराने के आदेश दिए थे. 2018 में नित्यानंद अपने बयान से पलटकर कहने लगा था कि वो सेक्स सहमति से हुआ था.

ये सब गुरु पूर्णिमा के दिन बताने का कोई तुक नहीं था लेकिन बताना जरूरी है. इन लोगों का नाम टॉप ट्रेंड करने लगता है तो सच्चाई जानना जरूरी है. आप भी किसी बाबा के चक्कर में पड़े हैं तो आजमा लीजिए. वेरिफाई कर लीजिए. भरोसा बहुत जिम्मेदारी वाली चीज है, सब पर नहीं करना चाहिए.

ये भी पढ़ें:

व्यंग्य: मंत्री पद से इस्तीफे के बाद बेरोजगार हुए सिद्धू क्या कपिल शर्मा के शो में वापस जाएंगे?

व्यंग्य: झाड़ू लगाएं बाद में, पहले पकड़ना तो सीख लें हेमा मालिनी!

जनसंख्या नियंत्रण कानून की राह में असली रोड़ा कौन?