डरे हुए उदित राज का ये ट्वीट बताता है कि कट गया उनका टिकट!

लगता है बीजेपी के सांसद उदित राज घबरा रहे हैं. उन्हें अपने टिकट कटने का डर सता रहा है. शायद उसी डर में वो अंदर की बात बाहर कर गए.

UditRaj

उदित राज उत्तर-पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी के सांसद हुआ करते थे लेकिन लगता है इस बार पार्टी उनसे खुश नहीं है. पार्टी की नाराज़गी का अहसास खुद उन्हें भी है. ना पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से उनका संपर्क हो पा रहा है, ना प्रधानमंत्री सुन रहे हैं. दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी उन्हें आश्वासन ज़रूर देते रहे लेकिन निर्मला सीतारमण या अरुण जेटली की ओर से उनके टिकट पर मुहर नहीं लगी. अब जब पार्टी दिल्ली की सात में से चार सीटों पर प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर चुकी है तब शायद उदित राज का दिल घबराने लगा है. ये घबराहट थी या बीजेपी नेतृत्व पर दबाव बनाने की रणनीति कि उदित राज ने ट्विटर पर ताबड़तोड़ ट्वीट डालकर अंदर की सारी बात बाहर कर दी. कहा तो ये भी जा रहा है कि उनका टिकट कट गया है और वो खुद ही अब इस ट्वीट के ज़रिए ये बात मान रहे हैं.

उदित राज का ट्वीट इधर आया और उधर से फॉलोअर्स ने खट्ठे-मीठे कमेंट्स की बौछार कर दी.

एक यूज़र ने लिखा कि आप खुद अमित शाह से बात नहीं कर पा रहे तो हमारी आवाज़ उन तक कैसे पहुंचा सकेंगे?

दूसरे यूज़र ने उदित राज को जवाब लिखा- अब सारे बयानों का हिसाब हो गया.


दरअसल उदित राज पांच सालों में नोटबंदी से लेकर जीएसटी तक पर जो कुछ बोले वो अधिकतर पार्टी लाइन से जुदा ही था. ज़ाहिर है, भाजपाई इससे असहज तो हुए होंगे लेकिन पार्टी ने उन पर कोई कार्यवाही नहीं की थी.

तीसरे यूज़र ने लिखा कि जब ट्विटर पर ही टिकट मांगना है तो यहीं चुनाव भी लड़ लीजिए.

एक और ने मौज ली- इस रूट की सभी लाइनें व्यस्त हैं.

और तो और उदित राज ने ट्विटर अपने नाम के साथ चौकीदार लगा रखा है.इसी को निशाना बनाकर एक शख्स ने ताना मारा- चौकीदार नाम हटेगा हैंडल से मतलब!

उदित राज ने अपने ट्वीट में बीजेपी नेतृत्व को याद दिलाया है कि वो अपनी पार्टी का विलय करके आए थे, ऐसे में उनके करोड़ों समर्थक टिकट की घोषणा को लेकर बेचैन हैं. उदित राज ने उम्मीद जताई कि पार्टी उनके समर्थकों को निराश नहीं करेगी. ज़ाहिर है बात अब तक अंदर थी लेकिन खुद उदित राज ने खोल दी है. ज़्यादा दिन नहीं बीते जब उदित राज टीवी9 भारतवर्ष के स्टिंग ऑपरेशन भारतवर्ष में फंसे थे. इस स्टिंग ऑपरेशन में कई सांसद अपने चुनावी खर्च के लिए काले धन के प्रस्ताव को मंज़ूर करते दिखाई दिए थे.

स्टिंग में खुलासा- BJP सांसद उदित राज ने पिछले चुनाव में उड़ाए 5 करोड़, कहा- नोटबंदी से मची तबाही

बाद में जब स्टिंग ऑन एयर हुआ तो उदित राज भड़क उठे. तब उन्होंने खूब हायतौबा मचाई और मुकदमे की धमकी तक दी. उस समय सांसद उदित राज के पास बोलने के लिए शब्द कम पड़ गए थे. वो बस “अरे बेईमानों अरे बेईमानों” की रट लगाते रहे. कम से कम 50 बार उदित राज ने यही शब्द दोहराया था. ऐसा लगता था कि उनके पास अपनी सफाई के लिए एक शब्द भी नहीं बचा.

अपना स्टिंग देखकर बौखलाए बीजेपी सांसद उदित राज, खुली धमकी पर उतारू, देखें VIDEO

बहरहाल, अब उदित राज को दिल्ली की तीन सीटों पर बीजेपी प्रत्याशियों के नामों का इंतज़ार करना होगा. हो सकता है उदित राज की किस्मत उतनी भी बुरी ना हो. हो सकता है पार्टी ने उनके लाइन से हटकर बयान देने को नज़रअंदाज़ कर दिया हो. हो सकता है पार्टी उनके स्टिंग ऑपरेशन को देखकर भी नज़रअंदाज़ कर दे. हो सकता है पार्टी उदित राज के उन ट्वीट्स को भी अनदेखा कर दे जो उन्होंने अपनी ही सरकार के खिलाफ किए थे.. लेकिन अगर पार्टी के नाराज़ होने में कहीं कोई कमी रह गई हो तो हो सकता है उनका ताज़ा ट्वीट वो भी पूरा कर दे.

Related Posts