Shaheed Bhagat singh, ‘दूसरों के कंधों पर सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं…’, पढ़े जोश भरे भगत सिंह के 5 Quotes
Shaheed Bhagat singh, ‘दूसरों के कंधों पर सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं…’, पढ़े जोश भरे भगत सिंह के 5 Quotes

‘दूसरों के कंधों पर सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं…’, पढ़े जोश भरे भगत सिंह के 5 Quotes

देश को आजादी दिलाने के लिए हंसते-हंसते फांसी के फंदे को गले लगाने वाले भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की आज पुण्यतिथि है. भगत सिंह और उनके साथियों ने जब मौत को गले लगाया तब उनकी उम्र महज 23 वर्ष थी. भगत सिंह के विचार आज भी लोगों को प्रभावित करते हैं.
Shaheed Bhagat singh, ‘दूसरों के कंधों पर सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं…’, पढ़े जोश भरे भगत सिंह के 5 Quotes
Shaheed Bhagat singh, ‘दूसरों के कंधों पर सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं…’, पढ़े जोश भरे भगत सिंह के 5 Quotes

Related Posts

Shaheed Bhagat singh, ‘दूसरों के कंधों पर सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं…’, पढ़े जोश भरे भगत सिंह के 5 Quotes
Shaheed Bhagat singh, ‘दूसरों के कंधों पर सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं…’, पढ़े जोश भरे भगत सिंह के 5 Quotes