अलवर गैंगरेप: तीन आरोपी अदालत में पेश, 13 मई तक रिमांड पर

तीनों आरोपियों को अलवर के अनुसूचित जाति-जनजाति विशिष्ट न्यायाधीश की अदालत में पेश किया गया.

जयपुर: अलवर के थानागाजी में हुए गैंगरेप के शेष 3 आरोपियों को अदालत में पेश किया गया. शुक्रवार को अलवर के अनुसूचित जाति-जनजाति विशिष्ट न्यायाधीश की अदालत में पेश किया गया.

न्यायालय ने छोटेलाल गुर्जर, हंसराज गुर्जर और महेश गुर्जर को 13 मई तक रिमांड पर भेजने के आदेश दिए है. छोटेलाल गुर्जर को पुलिस कस्टडी, हंसराज गुर्जर और महेश गुर्जर को जुडिशल कस्टडी में भेजने के आदेश दिए है.

वहीं अपर लोक अभियोजक का कहना है कि इस मामले में चालान पेश होने के बाद जल्द से जल्द पीड़ित को न्याय दिलवाया जाएगा और आरोपियों को नियमानुसार कड़ी से कड़ी सजा दिलवाई जाएगी.

ये था मामला

अलवर जिले के थानागाजी इलाके में पति को बंधक बनाकर पत्नी से पांच युवकों ने न केवल गैंगरेप किया, बल्कि वीडियो भी बना लिया. पीड़िता ने दो मई को रिपोर्ट दर्ज कराई. इसमें कहा कि वह 26 अप्रैल को दोपहर तीन बजे पति के साथ बाइक से गांव लालवाड़ी से तालवृक्ष जा रही थी.

थानागाजी-अलवर बाईपास रोड पर दुहार चौगान वाले रास्ते से कुछ ही दूर पर उनकी बाइक के आगे पांच युवको ने अपनी 2 बाइक लगा दी और रोक लिया. युवकों की उम्र 20-25 साल थी. युवक महिला व पति को जबरन रेत के बड़े टीलों की तरफ ले गए.

वहां उसके पति से पहले मारपीट की, फिर बंधक बना लिया. बाद में पांचों युवकों ने महिला से सामूहिक दुष्कर्म किया. इस मामले में पुलिस पर भी आरोप लगे कि उन्होंने चुनाव के कारण मामले को चार दिन तक दबाए रखा.

ये भी पढ़ें- अलवर गैंगरेप के मुख्य आरोपी समेत 6 गिरफ्तार

ये भी पढ़ें- Video:’3 घंटे तक बारी-बारी से रेप किया, विरोध पर पीटते रहे’, अलवर गैंगरेप पीड़‍िता की आपबीती

ये भी पढ़ें- बलात्कार की घटनाओं से फिर शर्मसार हुआ राजस्थान, आखिर कब जागेगी सरकार?