सीएम गहलोत पर भड़कीं मायावती, राजस्थान में राष्ट्रपति शासन की उठाई मांग

बीएसपी प्रमुख मायावती (Mayawati) ने आरोप लगाया कि सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने बीएसपी के साथ दगाबाजी करके पार्टी के विधायकों को कांग्रेस में शामिल कराया.
BSP chief Mayawati target cm ashok gehlot, सीएम गहलोत पर भड़कीं मायावती, राजस्थान में राष्ट्रपति शासन की उठाई मांग

राजस्थान (Rajasthan) में चल रही सियासी हलचल के बीच बीएसपी प्रमुख मायावती (Mayawati) ने सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) पर निशाना साधा है. उन्होंने आज  ट्वीट कर कहा, ”राजस्थान के मुख्यमंत्री गहलोत ने पहले दल-बदल कानून का खुला उल्लंघन व बीएसपी के साथ लगातार दूसरी बार दगाबाजी करके पार्टी के विधायकों को कांग्रेस में शामिल कराया और अब जग-जाहिर तौर पर फोन टेप कराके इन्होंने एक और गैर-कानूनी व असंवैधानिक काम किया है.”

उन्होंने आगे लिखा, ”इस प्रकार, राजस्थान में लगातार जारी राजनीतिक गतिरोध, आपसी उठा-पठक व सरकारी अस्थिरता के हालात का वहां के राज्यपाल को प्रभावी संज्ञान लेकर राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश करनी चाहिए. ताकि राज्य में लोकतंत्र की और ज्यादा दुर्दशा न हो.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

वहीं आज नेता प्रतिपक्ष (राजस्थान विधानसभा) गुलाबचंद कटारिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि विधानसभा में कांग्रेस के लोगों ने जिस प्रकार के कमेंट किए हैं, अगर उनको इकट्ठा करके कोई पब्लिश करे तो यह स्पष्ट हो जाएगा कि आपके घर में 18 महीनों में जिस प्रकार के हालात रहे हैं, वही आपके बिखराव का कारण बना है.

कटारिया ने कहा कि अगर वास्तव में आपके पास बहुमत है तो आ जाओ फ्लोर में, स्वयं अपनी तरफ से एप्लीकेशन दो कि हम फ्लोर टेस्ट कराकर समर्थन ले रहे हैं, एक पार्टी पहले अंदर लड़ी फिर सड़क पर लड़ी, होटलों में लड़ी और अब कोर्ट में लड़ रही है.

Related Posts