राजस्थान में BSP को बड़ा झटका, सभी 6 विधायकों ने थामा कांग्रेस का दामन

साल 2009 में भी ऐसा ही हुआ था जब BSP के सभी विधायक पार्टी का साथ छोड़ कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए थे.

राजस्थान में बहुजन समाज पार्टी (BSP) को बड़ा झटका लगा है. दरअसल सोमवार रात राज्य के सभी 6 BSP विधायकों ने अपनी पूर्व पार्टी छोड़ कांग्रेस का दामन थाम लिया है. मालूम हो कि इससे पहले भी BSP सुप्रीमों मायावती को राजस्थान में झटका लग चुका है.

साल 2009 में भी ऐसा ही हुआ था जब BSP के सभी विधायक पार्टी का साथ छोड़ कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए थे. अब एक दशक बाद मायावती फिर से राजस्थान में फेल हो गई हैं. पार्टी के 6 विधायक कांग्रेस में शामिल हो चुके हैं.

इन BSP व‍िधायकों ने बदला पाला

राजेन्द्र गुढा (विधायक, उदयपुरवाटी)
जोगेंद्र सिंह अवाना (विधायक, नदबई)
वाजिब अली (विधायक, नगर)
लाखन सिंह मीणा (विधायक, करोली)
संदीप यादव (विधायक, तिजारा)
दीपचंद खेरिया (विधायक, किशनगढ़बास)

मालूम हो कि पिछले साल दिसंबर महीने में राज्य में विधानसभा के चुनाव हुए थे. तब कांग्रेस पार्टी सबसे बड़ा दल बनकर उभरी थी. हालांकि कांग्रेस के खाते में बहुमत से एक सीट कम थी. निर्दलीय विधायकों के समर्थन से कांग्रेस ने सरकार तो बना ली, हालांकि सरकार पर किसी पल गिर जाने का खतरा बना रहता था.

कांग्रेस पार्टी को कुल 99 सीटों पर जीत मिली थी. वहीं बीजेपी के खाते में 73 सीटें ही आईं. निर्दलिय उम्मीदवारों के नाम कुल 13 सीटें रहीं तो बहुजन समाज पार्टी ने छह सीटें अपने नाम की. अब BSP विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के बाद सरकार के ऊपर से किसी भी पल गिरने का खतरा टल गया और कांग्रेस बहुमत में आ गई है.

ये भी पढ़ें: सउदी में तेल फैसेलिटी पर हुए हमले का असर एशिया पर, 28 वर्षों में आया सबसे बड़ा उछाल