सांभर झील में अब तक 20 हजार पक्षियों की मौत, केंद्र ने टीम भेजी, राज्‍य से मांगा जवाब

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक 9000 से ज्यादा पक्षी दम तोड़ चुके हैं. करीब 400 पक्षियों को घायल अवस्था में रेस्क्यू सेंटर में रखा गया है.

दुनिया में अपने नमक के लिए मशहूर राजस्‍थान (Rajasthan) की सांभर झील (Sambhar Lake) में सब कुछ ठीक नहीं है. हमेशा पक्षियों की चहक से गुंजायमान रहने वाली झील में इन दिनों सन्नाटा नजर आ रहा है. दरअसल पिछले 6 दिन में झील में करीब 20 हजार पक्षियों की मौत हो गयी है. राज्‍य सरकार जब मौत की वजह का पता नहीं लगा सकी तो केंद्र ने एक टीम भेजी है. यह टीम जांच करेगी कि पक्षियों के अचानक मरने की क्‍या वजह है.

झील में पक्षियों के शव तलाशने में जुटी SDRF टीम

सांभर झील में पानी और दलदल की वजह से SDRF की टीम को पक्षियों के शव तलाशने के काम में लगाया गया है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक 9000 से ज्यादा पक्षी दम तोड़ चुके हैं. करीब 400 पक्षियों को घायल अवस्था में रेस्क्यू सेंटर में रखा गया है.

मरने वाले कई पक्षी तो 5000 किलोमीटर की उड़ान भरकर पसंदीदा सांभर झील पहुंचे थे. मरने वाले पक्षियों में सबसे ज्यादा 3200 नार्दन सावलर हैं. इसके अलावा 2600 केंटिश प्लोवर, 1000 रफ, 600 को-मनकोट ब्लैकविंग और 600 ब्लैक विंग स्टील्ट रिंग पक्षी हैं.

राजस्थान हाईकोर्ट ने भी मामले को गंभीर मानते हुए राज्य सरकार से जवाब मांगा है.

ये भी पढ़ें

राजस्थान के इस संस्कृत स्कूल में 80 फीसदी से ज्यादा छात्र मुस्लिम, 4 भाषाओं पर मजबूत पकड़

13 साल की बच्‍ची को पिता ने 7 लाख में बेच दिया था, पुलिस ने भिखारी का रूप धर ढूंढा, पेट में 4 महीने का गर्भ