Coronavirus: गहलोत सरकार ने 30 मार्च तक बंद किए स्कूल-कॉलेज, नहीं बदली निगम चुनाव की तारीख

सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने शुक्रवार देर रात मुख्यमंत्री निवास पर कोरोना को लेकर उच्चस्तरीय बैठक की. जिसमें फैसला लिया गया कि स्कूल, कॉलेज और सिनेमाघर बंद रहेंगे.
Coronavirus rajasthan government, Coronavirus: गहलोत सरकार ने 30 मार्च तक बंद किए स्कूल-कॉलेज, नहीं बदली निगम चुनाव की तारीख

कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर राजस्थान सरकार (Rajasthan Government) ने 30 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद करने के आदेश जारी कर दिए हैं. वहीं नगर-निगम चुनाव तारीखों में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

जयपुर, जोधपुर और कोटा में नगर-निगम चुनाव होने हैं. चुनाव की तारीखों में बदलाव के लिए कोई सुझाव अब तक चुनाव आयोग को गहलोत सरकार ने नहीं दिया है. वहीं चुनाव आयोग 19 मार्च को चुनाव की अधिसूचना जारी कर देगा. 23 मार्च तक नामांकन दाखिल होंगे. 26 मार्च को उम्मीदवार नामांकन वापसी कर सकते हैं.

27 मार्च को चुनाव चिन्हों का आवंटन होगा. इसका मतलब 27 मार्च के बाद रैली सभा और जनसभा जगह-जगह होंगी. अकेले जयपुर में इस बार 250 वार्ड हैं. जयपुर में करीब सभी पार्टियों और निर्दलीय उम्मीदवार मिलाकर करीब 2000 से ज्यादा उम्मीदवार होने के उम्मीद है. ऐसे में अब तक नगर-निकायों की तारीखों में कोई बदलाव नहीं होना चिंता की बात है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शुक्रवार देर रात मुख्यमंत्री निवास पर कोरोना को लेकर उच्चस्तरीय बैठक की. जिसमें फैसला लिया गया कि स्कूल, कॉलेज और सिनेमाघर बंद रहेंगे. दरअसल, विश्व स्वास्थ्य संगठन और संयुक्त राष्ट्र ने कोरोना संक्रमण को महामारी घोषित किया है. केंद्र सरकार की ओर से जारी एडवाइजरी के क्रम में ये फैसला लिया गया.

सोशल मीडिया पर सुझाव

सरकार की तरफ से सोशल मीडिया के माध्यम से आम लोगों को कई सुझाव दिए जा रहे हैं. शादी समरोह में सीमित अतिथि बुलावे. सीएम ने अधिकारियों को समय-समय पर एडवाइजरी जारी करने पर और आमजन को जागरूक करने के निर्देश दिए हैं.

RLP विधायक ने कहा चुनाव की तारीखों में हो बदलाव

वहीं नगर-निगम चुनाव तारीखों के ऐलान के बाद राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP) विधाायक नारायण बेनीवाल ने कहा कि ये महामारी के तरह फैलने वाली बीमारी है. आज राजस्थान विधानसभा को 26 तारीख तक रद्द कर दिया है. तो नगर-निगम के होने वाले चुनाव की तारीखों में बदलाव होना चाहिए. हर उम्मीदवार के साथ हजारों की तादात में समर्थक होते हैं.

उन्होनें कहा कि वोटिंग के समय भी लंबी-लंबी लाइन लगती है. जल्द ही चुनाव आयोग को इस पर फैसला लेना चाहिए. RLP पार्टी इसकी अपील राजस्थान सरकार और चुनाव आयोग से करती है.

Related Posts