गाड़ी के डैशबोर्ड पर लगाएं बीवी-बच्चों की फोटो, परिवहन विभाग का ड्राइवरों को आदेश

परिवहन विभाग का मानना है कि अगर ड्राइवर को उसके परिवार की फोटो सामने नजर आएगी तो वह संभलकर गाड़ी चलाएगा.
राजस्थान परिवहन विभाग, गाड़ी के डैशबोर्ड पर लगाएं बीवी-बच्चों की फोटो, परिवहन विभाग का ड्राइवरों को आदेश

राजस्थान के परिवहन विभाग ने सड़क हादसे रोकने के लिए नई तरकीब निकाली है. विभाग ने सभी ड्राइवरों को अपनी गाड़ी के डैशबोर्ड पर फैमिली का फोटो लगाने का आदेश दिया है.

चालक संभलकर गाड़ी चलाएंगे

परिवहन विभाग का मानना है कि यदि चालक को उसके परिवार की फोटो सामने नजर आएगी तो वह संभलकर वाहन चलाएगा. उसे वाहन चलाते समय अपने पत्नी, बच्चों और माता-पिता का ख्याल आएगा,जिससे वह कम स्पीड में संभलकर गाड़ी चलाएगा.

फरमान का विरोध शुरू

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक निजी मसला बताते हुए इस फरमान का विरोध शुरू हो गया है. राज्य परिवहन आयुक्त अमृता चौधरी ने 9 सितंबर को सभी ड्राइवर अपने परिवार की फोटो स्टोर में जमा कराने के आदेश दिए थे.

वहां से फोटो फ्रेम होकर गाड़ियों के डैशबोर्ड पर लगाए जाएंगे. हालांकि आदेश जारी होने के इतने समय बाद भी अभी तक किसी ड्राइवर ने अपनी फैमिली फोटो विभाग को नहीं दी है.

सड़क दुर्घटनाओं में हजारों मौत

आंकड़ों के मुताबिक राजस्थान प्रदेश में साल 2018 में सड़क दुर्घटनाओं में 10 हजार 320 लोगों की मौत हुई. वहीं मौजूदा साल 2019 में अगस्त माह तक 5 हजार 819 लोगों की मौत हुई है.

राज्य पुलिस एवं परिवहन विभाग द्वारा कराए गए विभिन्न सर्वे में सामने आया कि अधिकांश सड़क दुर्घटनाएं रेड लाइट जंपिंग,चालक के नशे में होने, ओवरटेक करने, तय सीमा से अधिक स्पीड़ और हाईवे पर पशुओं के अचानक सामने आने की वजह से हुईं हैं.

ये भी पढ़ें- 24 साल से धरने पर हैं ये टीचर, अब दर्ज हुआ खुले में अंडरवियर सुखाने का केस

मारुति सुजुकी कारों की कीमत कम करने के सवाल पर बोले कंपनी चेयरमैन, ‘जरा इंतजार करो’

Related Posts