फिल्म पानीपत पर सांसद बेनीवाल की चेतावनी- गलत सीन नहीं हटाए तो देश की कानून व्यवस्था बिगड़ेगी

राजस्थान के नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने सख्त लहजे में पानीपत फिल्म के निर्माता और निर्देशक को चेतावनी दी है. उन्होंने सेंसर बोर्ड से महाराजा सूरजमल के गलत दृश्यों को हटाने की मांग की है.

आशुतोष गोवारिकर की फिल्म पानीपत (Panipat movie) रिलीज हो चुकी है. वहीं राजस्थान में फिल्म को लेकर प्रदर्शन भी जारी है. फिल्म में महाराजा सूरजमल को लालची शासक बताने का विरोध हो रहा है.

प्रदर्शनकारियों का दावा है कि ‘फिल्म में इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया, जिससे महाराजा सूरजमल (Maharaja Surajmal) की छवि धूमिल हुई है. उन्हें इसमें लालची राजा के रूप में दिखाया गया है, जोकि वह बिल्कुल नहीं थे.’ वहीं राजस्थान के नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी सख्त लहजे में फिल्म के निर्माता और निर्देशक को चेतावनी दी है.

उन्होंने कहा कि अगर महाराजा सूरजमल (Maharaja Surajmal) के इतिहास को गलत दिखाया गया तो देश की कानून व्यवस्था बिगड़ेगी और इसके जिम्मेदार फिल्म के निर्माता निर्देशक होंगे. उन्होंने कहा कि महाराजा सूरजमल (Maharaja Surajmal) पूरे जाट समाज के ही नहीं बल्कि देश के वीर योद्धा थे. वह वीर शासक थे जिन्होंने कई लड़ाईयां लड़ीं. मैं सेंसर बोर्ड से अपील करता हूं कि वह तुरंत महाराज सूरजमल के गलत दृश्यों को हटाएं.

ये भी पढ़ें-

‘पानीपत’ पर लगाया जाए बैन, गलत तथ्य दिखाने को लेकर राजस्थान में प्रदर्शन