शहीद राजीव सिंह की शहादत को सलाम, बेटा बोला- सेना में भर्ती हो पाकिस्तान को सिखाऊंगा सबक

शहीद की पार्थिव देह जैसे ही उनके घर पहुंचा, पूरा माहौल गमगीन हो गया. वहीं, बहन की आखों के आंसू थम नहीं रहे थे, फिर भी उन्होंने कहा कि मेरे भाई पर आज पूरा देश गर्व कर रहा है.
Nayak Rajeev Singh martyred, शहीद राजीव सिंह की शहादत को सलाम, बेटा बोला- सेना में भर्ती हो पाकिस्तान को सिखाऊंगा सबक

जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में शहीद हुए नायक राजीव सिंह का अंतिम संस्कार सोमवार को उनके पैतृक गांव लुहाकना खुर्द में किया गया. राजीव सिंह 5 राजपूत रेजीमेंट में तैनात थे. 8 फरवरी की रात पाकिस्तान की तरफ से की गई भारी गोलीबारी में वो शहीद हो गए थे.

सोमवार सुबह प्रागपुरा थाने से एक रैली के रूप में उनकी अंतिम यात्रा शुरू की गई. उनकी अंतिम यात्रा में भारत माता के जयकारे लगाते हुए हजारों लोग शामिल हुए. लगभग 20 किलोमीटर तक लोग पैदल चलकर लोग राजीव सिंह को श्रद्धांजलि देने पहुंचे.

शहीद की पार्थिव देह जैसे ही उनके घर पहुंचा, पूरा माहौल गमगीन हो गया. वहीं, बहन की आखों के आंसू थम नहीं रहे थे. फिर भी बहन ने कहा कि मेरे भाई पर आज पूरा देश गर्व कर रहा है.

शहीद राजीव सिंह का गांव लुहाकना खुर्द जयपुर जिले की विराट नगर तहसील में पड़ता है. इस गांव में कोई घर ऐसा नहीं है जो फौज में न हो. शहीद राजीव के पिता भी सेना में नायब सूबेदार थे. अब उनका 10 साल का बेटा अधिराज सिंह भी सेना में जाना चाहता है.

शहीद के बेटे की आखों में पाकिस्तान के खिलाफ भारी गुस्सा दिखा और बेटे ने भारी मन से कहा में भी सेना भर्ती होकर पाकिस्तान से बदला लूंगा. 5 राजपूत रेजिमेंट में सेवा दे रहे सैनिकों के मुताबिक, शहीद राजीव शानदार खिलाड़ी भी थे. राजीव के दोस्त भी उनकी प्रशंसा करते नहीं अघाते हैं.

शहीद के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए जयपुर ग्रामीण सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़, राजस्थान के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास, राज्य मंत्री राजेन्द्र यादव, विराट नगर विधायक इंद्राज गुर्जर और कई गणमान्य लोग भी पहुंचे थे.

राठौड़ ने कहा कि आज देश के हर जवान में पाकिस्तान के खिलाफ जबरदस्त गुस्सा है. वहीं, प्रदेश के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने शहीद परिवार के लिये 50 लाख रुपये की सहायता राशि का ऐलान किया. साथ ही बच्चे की पढ़ाई और परिवार को नोकरी दिलाने की भी बात कही.

पाकिस्तान की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन किया जा रहा है. लोगों में पाकिस्तान की इस कायराना हरकत को लेकर गुस्सा है. लेकिन हमारे सैनिकों की हिम्मत को लेकर गर्व भी है. देश सेवा में जान न्यौछावर करने वाले ऐसे शहीदों को नमन है.

ये भी पढ़ें-

14 डोगरा बटालियन के जांबाज जौहर दिखाने को तैयार, इंग्लैंड में होगा भारत-ब्रितानी सेना का युद्धाभ्यास

जामिया हिंसा: आगजनी करने वाले आरोपियों की जानकारी देने पर पुलिस देगी 1 लाख रुपये इनाम

CAA Protest: प्रियंका गांधी की शिकायत पर मानवाधिकार आयोग ने लिया एक्शन, मुख्य सचिव-DGP हुए तलब

Related Posts