ओले के बाद जयपुर के किसानों पर दूसरी आफत, फसल पर Pakistan के टिड्डियों का हमला

राजस्थान के करीब 11 ज़िलों में अब तक पाकिस्तान (Pakistan)) का टिड्डी दल आक्रमण (Locust attack in Rajasthan) कर चुका है. पिछले साल भी राजस्थान के सीमावर्ती ज़िलों में टिड्डी दल ने किसानों की फसलों को काफी नुकसान पहुंचाया था.

Pakistan Locust attack in Jaipur, ओले के बाद जयपुर के किसानों पर दूसरी आफत, फसल पर Pakistan के टिड्डियों का हमला

राजस्थान में जयपुर (Jaipur) ज़िले के विराटनगर, जमवारामगढ़ और पावटा में किसानों की मुसीबत बढ़ गई है. कुछ दिन पहले जहां ओले गिरने की वज़ह किसानों की फसल बर्बाद हुई थी, वहीं अब इनकी दूसरी नई मुसीबत पाकिस्तान से जुड़ी है. पाकिस्तानी टिड्डी दल (Locust attack in Rajasthan) ने किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचाना शुरू कर दिया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

पाकिस्तानी टिड्डी दल (Pakistan Locust) ने झुंझनू से सीकर के पाटन नीमका थाना होते हुए पावटा में एंट्री कर ली है. हालांकि किसानों ने टिड्डी दल के इस हमले को कृषि विभाग की मदद से ज़्यादा समय टिकने नहीं दिया. बता दें कि अब ये टिड्डी दल दौसा की ओर बढ़ गया है. किसानों के मुताबिक टिड्डी दल 6 किलोमीटर लंबा और 3 किलोमीटर चौड़ा था.

आपको बता दें कि राजस्थान के करीब 11 ज़िलों में अब तक पाकिस्तान का टिड्डी दल आक्रमण कर चुका है. पिछले साल भी राजस्थान के सीमावर्ती ज़िलों में टिड्डी दल ने किसानों की फसलों को काफी नुकसान पहुंचाया था. कोरोना के साथ-साथ टिड्डी दल के इस हमले ने राजस्थान सरकार की मुसीबत और बढ़ा दी है.

राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस मामले को लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की और प्रदेश में टिड्डी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मुख्य सचिव को निर्देश दिए कि इस संबंध में प्रभावी कार्य योजना तैयार की जाए. पिछले साल भी टिड्डी आक्रमण के चलते किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ा था. निर्देश दिए गए हैं कि 11 जिलों में प्रवासी श्रमिकों के अधिक आगमन के कारण पैदा हुई स्थितियों की समीक्षा के लिए लगाए गए प्रभारी अधिकारी टिड्डी आक्रमण को लेकर भी चर्चा करें. वे ज़िला कलेक्टरों से विस्तृत जानकारी लेकर राज्य सरकार को अवगत कराएं, ताकि इसके लिए ज़रूरी इंतज़ाम किए जा सकें.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts