Rajasthan: 50 मुस्लिम परिवारों के 250 लोगों ने अपनाया हिन्दू धर्म, बोले- बिना किसी दबाव के लिया फैसला

बाड़मेर (Barmer) जिले के पायला कल्ला पंचायत समिति के मोतीसरा गांव में 50 मुस्लिम परिवारों (Muslim Families) ने सैकड़ो सालों बाद पूजा-पाठ हवन कर, जनेहु पहन कर 250 सदस्यों ने हिन्दू धर्म अपनाया है.
Rajasthan fifty Muslim families adopted Hindu religion, Rajasthan: 50 मुस्लिम परिवारों के 250 लोगों ने अपनाया हिन्दू धर्म, बोले- बिना किसी दबाव के लिया फैसला

राजस्थान (Rajasthan) के बाड़मेर (Barmer) में 50 मुस्लिम परिवारों के करीब 250 लोगों ने हिन्दू धर्म को अपनाया है. इन लोगों ने 5 अगस्त यानी राम मंदिर (Ram Mandir) भूमि पूजन (Bhoomi Pujan) वाले दिन ही हिन्दू धर्म को ग्रहण किया है.

बाड़मेर जिले के पायला कल्ला पंचायत समिति के मोतीसरा गांव में 50 मुस्लिम परिवारों ने सैकड़ो वर्षों बाद पूजा-पाठ हवन, जनेहु पहनकर 250 सदस्यों ने हिन्दू धर्म अपनाया है. हिंदु धर्म अपनाने वाले इन लोगों का कहना है, “हम पढ़े लिखे नहीं है, लेकिन हमें अब इतिहास की जानकारी होने के बाद हमने बिना किसी के दबाव के हिन्दू धर्म ग्रहण कर लिया है और हम वापस हिन्दू बन गए हैं. हम पहले से ही हिन्दू धर्म के हिसाब से ही जीवनयापन करते थे, लेकिन अब हिन्दू रीति रिवाज से धर्म ग्रहण कर लिया है.”

“मुगलकाल में जबरदस्ती करवाया था धर्म परिवर्तन”

हिन्दू धर्म अपनाने वाले बुजुर्ग सुभनराम ने कहा, “मुगलकाल में हमारे पूर्वजों को डरा धमका कर मुस्लिम बनाया गया था, लेकिन हम हिन्दू धर्म से ताल्लुक रखते थे. मुस्लिम हमसे दूरी रखते हैं. इतिहास की जानकारी होने के बाद हमने इस चीज के ऊपर गौर किया कि हम हिन्दू हैं और हमें वापस हिन्दू धर्म में यह जाना चाहिए हमारे रीति-रिवाज पूरे हिन्दू धर्म से संबंध रखते हैं. इसी के बाद पूरे परिवार ने हिन्दू धर्म में वापसी की इच्छा जताई और फिर घर पर हवन यज्ञ करा जनेहु पहन कर परिवार के सभी 250 सदस्यों ने फिर से हिन्दू धर्म में वापसी कर ली.”

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

वहीं हरजीराम के मुताबिक, “कंचन ढाढ़ी जाति से ताल्लुक रखने वाला परिवार पिछले कई सालों से हिन्दू रीति रिवाजों का पालन कर रहा था. वह हर वर्ष अपने घरों में हिन्दू त्यौहारों को ही मनाते हैं. आज राम जन्म भूमि पर राम मंदिर के शिलान्यास के समारोह पर हम सभी ने हवन पूजा पाठ का प्रोग्राम रखा और हिन्दू संस्कृति का पालन करते हुए हमने अपनी स्वेच्छा से घर वापसी की है. हमारे ऊपर कोई दबाव वगैरह नहीं है.

साधु-संतों की मौजूदगी में किया हिन्दू धर्म ग्रहण

बाड़मेर जिले सहित आसपास के अन्य दर्जनों हिन्दू साधु संतो को खासतौर से इस अवसर पर बुलाया गया था और उनके सानिध्य में ही इन लोगों की हिन्दू धर्म में घर वापसी हुई है. इन लोगों का साफ तौर पर कहना है कि इन पर किसी भी तरह का दबाव नहीं है यह लोग पिछले कई सालों से हिन्दू रीति रिवाज के हिसाब से ही अपनी जिंदगी को जी रहे हैं लेकिन आज वह पूरी तरीके से घर वापसी कर रहे हैं.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts