संसद में डाकू जगन गुर्जर का उठा मुद्दा, सांसद बेनीवाल बोले एनकांउटर किया जाए

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी से सांसद हनुमान बेनीवाल ने लोकसभा में कहा, 'राजस्थान सरकार की कानून व्यवस्था फैल हो गई. राजस्थान की पुलिस डाकू जगन गुर्जर को पकड़ने में नाकाम है.'
, संसद में डाकू जगन गुर्जर का उठा मुद्दा, सांसद बेनीवाल बोले एनकांउटर किया जाए

नागौर: राजस्थान के नागौर से लोकसभा सांसद हनुमान बेनीवाल ने शुक्रवार को संसद भवन में चल रहे सत्र के दौरान राजस्थान कुख्यात डाकू जगन गुर्जर का मुद्दा उठाया.

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी से सांसद हनुमान बेनीवाल ने लोकसभा में राजस्थान के लॉ एंड ऑर्डर का मुद्दा उठाया. बेनीवाल ने शून्यकाल के दौरान राजस्थान में आपराधिक मामले को संसद में उठाते हुए कुख्यात डाकू जगन गुर्जर के एनकाउंटर की मांग की.

उन्होंने कहा स्थायी समाधान के लिए ऐसे डाकूओं का उन्मूलन जरूरी है. राजस्थान में लॉ एंड ऑर्डर की खराब स्थिति होने पर केंद्र के हस्तक्षेप की भी मांग की. उन्होंने शुक्रवार को ट्वीट करते हुए लिखा, ‘संसद में आज राजस्थान की बिगड़ती कानून व्यवस्था तथा डकैतों से व्याप्त आंतक का मुद्दा उठाया’

, संसद में डाकू जगन गुर्जर का उठा मुद्दा, सांसद बेनीवाल बोले एनकांउटर किया जाए

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘राज्य सरकार सक्षम होती तो आज हमें लोकसभा में यह मुद्दा उठाना नहीं पड़ता. कांग्रेस सरकार शासन में आते जगन गुर्जर जैसे दस्यु प्रभावी हो गए और सरेआम महिलाओं को निर्वस्त्र करके घुमाया तथा फायरिंग की साथ ही सैकड़ों ऐसी घटना है जिसका उल्लेख खुद कांग्रेस को करना चाहिए.’

, संसद में डाकू जगन गुर्जर का उठा मुद्दा, सांसद बेनीवाल बोले एनकांउटर किया जाए

उन्होंने कहा कि, ”डाकू जगन गुर्जर पर 150 से ज्यादा हत्या, लूट, डकैती के मुकदमें दर्ज हैं और 70 से ज्यादा मामलों में बरी हो गया. उसके डर से कोर्ट में कोई गवाही देने नहीं जाता था. राजस्थान सरकार की कानून व्यवस्था फैल हो गई. राजस्थान की पुलिस डाकू जगन गुर्जर को पकड़ने में नाकाम है. मेरी सरकार से मांग है कि जगन गुर्जर जैसे डाकू का एनकांउटर किया जाए.”

हाल ही में कुख्यात डकैत जगन गुर्जर और उसके गैंग की करतूत सामने आई थी. आरोप है कि धौलपुर के एक गांव में गैंग के डाकुओं ने बुधवार रात बच्चों और महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाया था. इससे पहले जगन और उसके हथियारबंद लोग व्यस्त बाड़ी मार्केट पहुंचे थे. इस घटना का जिक्र सांसद हनुमान बेनीवाल ने संसद में किया.

Related Posts