हैंडसम होना, इंग्लिश में बाइट देना सब कुछ नहीं, हमारे जैसी रगड़ाई होती तो पता चलता- अशोक गहलोत

गहलोत ने कहा कि 40 साल हो गए हैं राजनीति करते हुए, ये नई पीढ़ी जो आई है, हम उनको प्यार करते हैं. आने वाला कल उनका ही है. ये आज केंद्रीय मंत्री हैं, राज्यों के अध्यक्ष हैं, यदि वो भी वैसे ही समय से गुजरते जैसा हमने अपने समय में देखा, तो वे समझ जाते.
Ashok Gehlot to Sachin Pilot, हैंडसम होना, इंग्लिश में बाइट देना सब कुछ नहीं, हमारे जैसी रगड़ाई होती तो पता चलता- अशोक गहलोत

राजस्थान की सियासी हलचल अभी थमते हुए नहीं दिख रही है. पार्टी के दो बड़े धड़ों की ओर से एक दूसरे पर लगातार बयानबाजी की जा रही है. इसी कड़ी में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट और उनकी युवा छवि पर हमला बोला है.

गहलोत ने कहा कि 40 साल हो गए हैं राजनीति करते हुए, ये नई पीढ़ी जो आई है, हम उनको प्यार करते हैं. आने वाला कल उनका ही है. ये आज केंद्रीय मंत्री हैं, राज्यों के अध्यक्ष हैं, यदि वो भी वैसे ही समय से गुजरते जैसा हमने अपने समय में देखा, तो वे समझ जाते.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

गहलोत ने कहा कि हमारी खूब रगड़ाई हुई है, इसलिए हम आज भी जिंदा हैं, लेकिन उनकी ऐसी रगड़ाई नहीं हुई. गहलोत ने कहा कि ऐसा बिल्कुल नहीं है कि हम युवाओं को पसंद नहीं करते, जो ये कहते हैं कि हम नई पीढ़ी को पसंद नहीं करते ये बिल्कुल गलत है.

उन्होंने कहा कि नई पीढ़ी को राहुल गांधी पसंद करते हैं, सोनिया गांधी पसंद करती हैं, अशोक गहलोत पसंद करते हैं. इसकी गवाह हैं वो सारी मीटिंग्स, जिसमें मैं खुद लड़ता हूं यूथ कांग्रेस और NSUI के लिए.

इनकी रगड़ाई नहीं हुई, इसलिए हो रही है तकलीफ

इसी के साथ राजस्थान के मुख्यमंत्री और वरिष्ठ नेता ने युवाओं को लेकर कहा कि इनकी रगड़ाई नहीं हुई है इसलिए इनको अब तकलीफ होती है. इसलिए ही इनको समझ नहीं आ रहा है. ये केंद्रीय मंत्री बन गए, PCC अध्यक्ष बन गए, अगर इनकी रगड़ाई हुई होती तो ये और भी अच्छा काम करते. मैं कहता हूं कि ये मुझसे भी ज्यादा काम कर सकते हैं.

सचिन पायलट पर निशाना साधते हुए गहलोत ने कहा कि अगर PCC अध्यक्ष अगर खुद ही हॉर्स ट्रेडिंग को पसंद करेंगे तो कैसे चलेगा ? डिप्टी सीएम खुद सरकार गिराने की साजिश में लगे थे?

सिर्फ हैंडसम होना काफी नहीं है

गहलोत ने पायलट की छवि पर हमला बोलते हुए कहा कि अच्छी अंग्रेजी बोलना, अच्छी बाइट देना और हैंडसम होने से सब कुछ नहीं होता. देश के लिए आपके दिल के अंदर क्या है, आपकी विचारधारा, नीतियां और प्रतिबद्धता, मायने रखती हैं.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts