Rajasthan Political Crisis: क्यों नाराज हुए सचिन पायलट और क्या हैं उनकी तीन बड़ी मांग?

सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट एक लंबे सियासी घटनाक्रम के बाद लगभग मान गए हैं. इसके लिए उन्होंने तीन मुख्य मांग की हैं.
Why Sachin Pilot is angry, Rajasthan Political Crisis: क्यों नाराज हुए सचिन पायलट और क्या हैं उनकी तीन बड़ी मांग?

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच की रार ने सूबे की सियासत को सुर्खियों में ला दिया है. इसका मुख्य कारण है सचिन पायलट की नाराजगी. पायलट की नाराजगी का मुख्य कारण है उन्हें आया SOG का नोटिस. दरअसल ये नोटिस मुख्यमंत्री समेत कई और विधायकों को भी पहुंचा, लेकिन पायलट को ये बात चुभ गई और उन्होंने दिल्ली का रुख किया.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

सचिन का मानना है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा उनकी पार्टी के प्रति निष्ठा पर सवाल खडे़ किए जा रहे हैं. साथ ही उनको प्रदेश के अध्यत्र पद से हटाने के लिए भी गहलोत खेमे की तरफ से लगातार मुहिम चलाई जा रही थी. सचिन पायलट की एक शिकायत ये भी थी कि उन्हें वो तवज्जों नहीं दी जा रही, जो दी जानी चाहिए.

अपने मंत्रालाय तक में नहीं कर पा रहे थे काम

पायलट के मुताबिक वो खुद के मंत्रालय तक में काम नहीं कर पा रहे थे. उनका कहना है कि सरकार की किसी भी योजना में उप मुख्यमंत्री होने के बावजूद भी उनका फोटो तक नहीं होता. बता दें कि राजस्थान के उप मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ सचिन पायलट की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से अदावत का ये कोई पहला मामला नहीं है, सचिन पायलट कई बार सरकार के अहम बैठकों और कई कार्यक्रमों में नहीं गये हैं.

सचिन पायलट की तीन बड़ी मांग

हालांकि सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट एक लंबे सियासी घटनाक्रम के बाद लगभग मान गए हैं. इसके लिए उन्होंने तीन मुख्य मांग की हैं. उनका कहना है कि वो गृह मंत्रालय, वित्त मंत्रालय और अध्यक्ष पद अपने पास रखना चाहते हैं, लेकिन इस पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है. देखना होगा कि अब आगे बात कैसे बनती है.

Related Posts