रात में किसी से क्‍यों नहीं मिलती राजस्‍थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे? ट्वीट कर बताई वजह

पूर्व मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि लोगों को समझना चाहिए कि 'महिला और पुरुष नेता के काम करने में अंतर होता है.'

राजस्‍थान (Rajasthan) की पूर्व मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) रात 10 बजे के बाद लोगों से नहीं मिलती. उनका कहना है कि लोगों के बीच ऐसी धारणा उनके आलोचकों ने बनाई है. वसुंधरा ने मंगलवार (12 नवंबर) को इसके पीछे की वजह समझाई.

वसुंधरा राजे ने कहा, “ऐसे लोगों को समझना चाहिए कि महिला और पुरुष नेता के काम करने में अंतर होता है.” उन्‍होंने कहा, “पुरुष लुंगी में भी किसी से मिल सकता है लेकिन महिलाएं रात को लोगों से नहीं मिल सकतीं. उन्‍हें मर्यादाओं में रहना पड़ता है.”

पूर्व सीएम अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा, राजस्थान के कार्यक्रम में बोल रही थीं. उन्‍होंने महिला आरक्षण पर भी बात की. राजे ने कहा, “पिछली सरकार के समय जब विधानसभा में पंचायत राज के चुनाव में महिलाओं के लिए 50 फीसदी पद आरक्षित किए गए तो सबने मेजें थपथपाईं. बाद में जब मैं अपने कक्ष में गई तो कई पुरुष विधायकों ने कहा कि ये आप क्‍या कर रही हैं? इनको हमारे सिर क्‍यों बिठा रही हैं?”

Vasundhara Raje ने आगे कहा, “भामाशाह योजना के माध्‍यम से जब Rajasthan की महिलाओं को घर की मुखिया बनाने का फैसला किया तो पर्दे के पीछे से ऐसी ही आपत्तियां आईं. लोग कहने लगे कि अब सारा पैसा तो महिलाओं के खाते में चला जाएगा. इन आपत्तियों के बावजूद मैंने संघर्ष करते हुए महिलाओं के लिए यह सब किया.”

ये भी पढ़ें

VIDEO: शराब के नशे में हसीना का हाई वोल्टेज ड्रामा, बीच सड़क पर देने लगी फ्लाईंग किस

आकर्षण का केंद्र बना 15 करोड़ का भैंसा, नाश्ते में खाता है काजू बादाम