एबी डिविलियर्स ने की विराट कोहली की सराहना, बोले- क्रिकेट के रोजर फेडरर हैं भारतीय कप्तान

जिम्बाब्वे के पूर्व तेज गेंदबाज पॉमी मबांगा (Pommie Mbangwa) और पूर्व साउथ अफ्रीका खिलाड़ी एबी डिविलियर्स (AB De Villiers) ने इंस्टाग्राम लाइव पर क्रिकेट से लेकर खिलाड़ियो के बारे में काफी बातें की.

टीम इंडिया के कप्तान और विश्व के शानदार बल्लेबाज विराट कोहली खेल जगत में अपनी खास पहचान बना चुके हैं. अपनी दमदार बल्लेबाजी के दम पर उनकी बहुत बड़ी फैन फोलोइंग है. सिर्फ क्रिकेट के चाहने वाले ही कोहली के मुरीद नहीं है बल्कि कई क्रिकेटर भी विराट कोहली को आज के दौर का अपना पसंदीदा खिलाड़ी मानते हैं.

अब साउथ अफ्रीका के पूर्व खिलाड़ी एबी डिविलियर्स ने विराट कोहली की तारीफ करते हुए उन्हें क्रिकेट का रोजर फेडरर करार दिया है. साथ ही उन्होंने विराट को चेज करने के मामले में सचिन से भी बेहतर बताया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

विराट क्रिकेट के फेडरर और स्मिथ हैं नडाल- डिविलियर्स

इस सोशल मीडिया के दौर में ज्यादातर खिलाड़ी लाइव सेशन कर रहे हैं. अब जिम्बाब्वे के पूर्व तेज गेंदबाज पॉमी मबांगा और पूर्व साउथ अफ्रीका खिलाड़ी एबी डिविलियर्स ने भी इंस्टाग्राम लाइव पर क्रिकेट से लेकर खिलाड़ियो के बारे में काफी बातें की. इस दौरान एक बार फिर भारतीय कप्तान विराट कोहली और ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ का नाम साथ में आया.

डिविलियर्स ने विराट की तुलना टेनिस सुपरस्टार रोजर फेडरर से की. उन्होंने कहा कि कोहली काफी ज्यादा नेचुरल बॉल स्ट्राइकर हैं. वो फेडरर की तरह हैं. स्मिथ की बात करें तो वो बिल्कुल नडाल के जैसे है. स्मिथ मानसिक तौर पर काफी मजबूत हैं. वो रन बनाने का तरीका निकाल ही लेते हैं. उनका खेल नेचुरल नहीं लगता, लेकिन वो रिकॉर्ड तोड़ने की क्षमता रखते हैं. दूसरी ओर कोहली ने दुनियाभर में रन बनाए है.

आपको बता दें कि स्विजरलैंड के टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर 20 ग्रैंड स्लैम जीत चुके हैं. वहीं रफेल नडाल सिर्फ फेडरर से एक कदम पीछे 19 ग्रैंड स्लैम अपने नाम कर चुके हैं.

‘सचिन से बेहतर हैं विराट’

एबी डिविलियर्स और विराट कोहली आईपीएल में एक ही टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर से खेलते हैं. दोनों के बीच में काफी अच्छा तालमेल है. डिविलियर्स ने विराट कोहली की तारीफ करते हुए उन्हें सचिन से भी बेहतर बताया. डिविलियर्स ने कहा कि सचिन तेंदुलकर हम दोनों के लिए रोल मॉडल हैं. जो उपलब्धियां उन्होंने हासिल की हैं वो हमारे और हर एक युवा खिलाड़ी के लिए उदाहरण है.

कोहली ने खुद भी सचिन को महान और क्रिकेट में नए मानक निर्धारित करने वाला बताया है. मेरा मानना है कि लक्ष्य का पीछा करते हुए कोहली सबसे शानदार होते हैं. तेंदुलकर हर एक परिस्थिति में बेहतरीन थे, लेकिन लक्ष्य का पीछा करने की बात हो तो ऐसी स्थिति में कोहली टॉप पर हैं. जब विराट बल्लेबाजी करते हैं तो कोई भी लक्ष्य सुरक्षित नहीं रह सकता.

विराट कोहली इस वक्त आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर दो पर हैं. वहीं स्टीव स्मिथ टॉप पर हैं, लेकिन दोनों के खेलने का अंदाज बिल्कुल अलग है. विराट तकनीक के मामले में काफी मजबूत हैं. तो स्मिथ की तकनीक काफी क्रिकेटर्स को समझ तक नहीं आती. लेकिन रन बनाने की रेस हो या शतक लगाने का जूनुन दोनों ही खिलाड़ियों में साफ नजर आता है. यही वजह है कि टेस्ट में बेस्ट का ताज कभी स्मिथ के पास होता है तो कभी विराट के नाम.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts