आकाश चोपड़ा ने बताया क्यों नहीं हो सकती विराट कोहली से बाबर आजम की तुलना

इस बात से हर कोई वाकिफ है कि पाकिस्तान के वनडे और टी20 कप्तान बाबर आजम विराट कोहली को काफी फोलो करते हैं. वो विराट की तरह फिटनेस और फॉर्म कायम रखना चाहते हैं. लेकिन अब दोनों के बीच तुलना शुरू हो चुकी है.
Babar Azam and Virat Kohli, आकाश चोपड़ा ने बताया क्यों नहीं हो सकती विराट कोहली से बाबर आजम की तुलना

इन दिनों भारतीय कप्तान विराट कोहली से पाकिस्तान के सीमित ओवर के कप्तान बाबर आजम की तुलना की जा रही है. पाकिस्तान में ये च्रर्चा काफी आम है. लेकिन अब पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा ने इस मुद्दे पर दोनों खिलाड़ियों के बीच के अंतर को साफ किया है. आकाश चोपड़ा ने कहा कि विराट से बाबर की तुलना करना अभी काफी जल्दबाजी होगी. दोनों के बीच बहुत बड़ा अंतर है.

विराट के आस-पास भी नहीं है बाबर

इस बात से हर कोई वाकिफ है कि पाकिस्तान के वनडे और टी20 कप्तान बाबर आजम विराट कोहली को काफी फोलो करते हैं. वो विराट की तरह फिटनेस और फॉर्म कायम रखना चाहते हैं. लेकिन अब दोनों के बीच तुलना शुरू हो चुकी है. वहीं आकाश चोपड़ा ने कहा कि – “बाबर आजम प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं. इसमें भी कोई शक नहीं है कि विराट उनसे काफी आगे हैं. वो उम्र में बाबर से बड़े हैं और उन्होंने बाबर से पहले ही क्रिकेट शुरू की थी. विराट का नाम पहले से ही सर्वकालिक महान बल्लेबाजों की रेस में काफी आगे चल रहा है.”

उन्होंने आगे कहा, “बाबर के पास उस स्तर पर पहुंचाने की काबिलियत है. लेकिन सवाल ये है कि क्या वो उस मुकाम तक पहुंच पाएंगे? क्योंकि ये बहुत सी चीजों पर निर्भर करता है, जैसे कि अनुशासन, इंजरी, फॉर्म और बाकी चीजें. प्रतिभा आपको एक जगह पर ले जाने के लिए काफी है. लेकिन उससे आगे जाने के लिए आपको जुनूनी होना होगा. विराट शुरू से इतने जुनूनी नहीं थे लेकिन उन्होंने ये हासिल किया. दोनों की तुलना करना सही नहीं है.”

आकाश चोपड़ा ने कहा, “विराट शुरू से ही बुहत प्रतिभाशाली थे. मैं यही नहीं मानता कि बाबर विराट से इस उम्र में बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं. दोनों के बीच सबसे बड़ा फर्क है विराट का बहुत ज्यादा खुद को लेकर अनुशासित होना. वो अपनी ट्रेनिंग और डाइट को लेकर बहुत अनुशासित हैं और ये उनका जुनून है.”

बाबर और विराट का प्रदर्शन

वैसे तो दोनों खिलाड़ियों में कोई तुलना नहीं हो सकती. इसकी वजह है अनुभव. विराट कोहली की तुलना में बाबर का अनुभव काफी कम है. 25 साल के बाबर ने 26 टेस्ट मैच में 45.12 की औसत से 1850 रन बनाए हैं. इसमें 3 शतक और 13 अर्धशतक शामिल हैं. वहीं वनडे में उन्होंने 54.17 की औसत से 74 मैच में 3359 रन जोड़े. इस दौरान उनके बल्ले से 11 शतक और 15 अर्धशतक निकले. साथ ही 38 टी-20 मैच में बाबर ने 13 अर्धशतक लगाते हुए 50.72 की औसत से 1471 रन बनाए हैं.

वहीं 31 साल के विराट कोहली 2008 से इंटरनेशनल क्रिकेट खेल रहे हैं. उन्होंने 86 टेस्ट मैच में 27 शतक और 22 अर्धशतक लगाते हुए 7240 रन बनाए हैं. जबकि 248 वनडे मैच में विराट ने 11867 रन जोड़े. इसमें 43 शतक और 58 अर्धशतक उनके बल्ले से निकले. टी20 क्रिकेट की बात करें तो विराट कोहली के नाम 82 मैच में 24 अर्धशतक समेत 2794 रन हैं. खास बात ये है कि विराट का औसत क्रिकेट के हर फॉर्मेट में 50 से ज्यादा का है.

Related Posts