टोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक के लिए एथलीट्स की अगली ट्रेनिंग की शुरुआत 5 अक्टूबर से

रिजनल सेंटर्स को निर्देश दिया है कि वे नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस में एथलीट्स के बीच वायरस के संक्रमण के किसी भी तरह के खतरे को समाप्त करने के लिए बायो-बबल (जोनिंग) बनाए रखें.

  • IANS
  • Publish Date - 7:31 pm, Sun, 27 September 20
source- twitter tokyo olympics

स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने रविवार को कहा कि टोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके एथलीटों के लिए ट्रेनिंग पांच अक्टूबर से देश के सभी नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस में शुरू हो जाएगी. साई ने एक बयान में कहा कि अगले चरण के रूप में उन एथलीटों और पैरा एथलीटों पर ध्यान दिया जाएगा जो अगले साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा लेंगे और जो 2022 एशियाई और राष्ट्रमंडल खेलों और 2024 पेरिस ओलंपिक की तैयारी कर रहे हैं.

साई ने साथ ही कहा कि जिन खेलों के लिए फिर से ट्रेनिंग शुरू होगी उनमें पैरा-एथलेटिक्स, पैरा-पावरलिफ्टिंग, पैरा शूटिंग, पैरा तीरंदाजी, साइक्लिंग, हॉकी, वेटलिफ्टिंग, तीरंदाजी, कुश्ती, जूडो, एथलेटिक्स, मुक्केबाजी और तलवारबाजी हैं.

IPL 2020 RR vs KXIP Live Score: राजस्थान ने जीता टॉस, पहले गेंदबाजी का किया फैसला

बयान में आगे कहा गया है कि रिजनल सेंटरों में खेल गतिविधियों का आयोजन आवासीय सुविधाओं के साथ किया जा रहा है ताकि एथलीटों को कोविड-19 के खतरों से बचाया जा सके.

साथ ही उसने रिजनल सेंटर्स को निर्देश दिया है कि वे नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस में एथलीट्स के बीच वायरस के संक्रमण के किसी भी तरह के खतरे को समाप्त करने के लिए बायो-बबल (जोनिंग) बनाए रखें.

IPL 2020: अपने की मौत भी नहीं रोक पाई शेन वॉटसन का बल्ला, क्रिकेट के जुनून के मुरीद हुए फैंस

(IPL 2020 की सबसे खास कवरेज मिलेगी TV9 भारतवर्ष पर. देखिए हर रोज: ‘रेगिस्तान में महासंग्राम’)