T20 World Cup: शैफाली की मां ने बढ़ाया हौसला, बोलीं- कोई बात नहीं, आज नहीं तो कल जीत जाओगी

शैफाली की मां ने कहा, "मैं अपनी बेटी से कहना चाहती हूं कि कोई बात नहीं बेटा, अपना हौसला मत खोना. आज नहीं तो कल हो जाएगा."
T20 Women World Cup, T20 World Cup: शैफाली की मां ने बढ़ाया हौसला, बोलीं- कोई बात नहीं, आज नहीं तो कल जीत जाओगी

ऑस्ट्रेलिया ने टी-20 महिला विश्वकप में भारत को 85 रनों से हरा दिया. 184 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय महिला टीम 99 पर ऑलआउट हो गई. इस विश्वकप में शैफाली वर्मा ने बेहद शानदार प्रदर्शन किया. टीवी9 भारतवर्ष ने मुकाबले के खत्म होते ही शैफाली की मां और भाई से बातचीत की.

शैफाली वर्मा की मां ने कहा कि ‘कोई बात नहीं बेटा, आज नहीं तो कल हो जाएगा. मैंने अपनी बेटी से कहा था कि मेरे लिए वर्ल्डकप लेकर आना, तो उसने कहा कि ठीक है मम्मी.’

उन्होंने कहा, “मैं अपनी बेटी से यही कहना चाहती हूं कि कोई बात नहीं बेटा, अपना हौसला मत खोना. आज नहीं तो कल हो जाएगा.”

शैफाली के भाई ने कहा कि ‘कोई बात नहीं, खेल में ये सब होता रहता है. शैफाली आज गलत शॉट खेलकर आउट हुई, उसे ऐसा शॉट नहीं मारना चाहिए था. शैफाली को वैसा ही खेलना चाहिए था जैसा वो पिछले मुकाबलों में खेल रही थी.’

उन्होंने कहा, “हमारे पापा ने हमेशा हमारा साथ दिया है. उन्होंने हमें खेलने के लिए अकेडमी भेजा. हमें किसी तरह की दिक्कत नहीं आने दी. हम यही चाहते हैं कि शैफाली का भविष्य काफी उज्जवल हो.”

T20 Women World Cup, T20 World Cup: शैफाली की मां ने बढ़ाया हौसला, बोलीं- कोई बात नहीं, आज नहीं तो कल जीत जाओगी

विश्वकप जीतने का सपना टूटा

बता दें कि ऑस्ट्रेलियाई टीम छठी बार फाइनल में पहुंची थी. वहीं, भारतीय टीम पहली बार फाइनल खेल रही थी और उसका पहला खिताब जीतने का सपना टूट गया.

करीब 80,000 दर्शकों की मौजूदगी में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 184 रन का स्कोर बनाया और फिर भारत को पांच गेंद बाकी रहते 99 रन पर ढेर कर दिया.

ऑस्ट्रेलिया से मिले 185 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत काफी खराब रही और टीम नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई. भारत की ओर से दीप्ति शर्मा ने सर्वाधिक 33 रन बनाए. शैफाली केवल 2 रन ही बना पाईं.

Related Posts