टी20 सीरीज के रोमांचक मुकाबले में हार के बाद ऑस्ट्रेलिया के पास इंग्लैंड के खिलाफ कमबैक का मौका

इंग्लैंड दौरे पर गई ऑस्ट्रेलिया टीम हर हाल में इंग्लैंड को हराकर सीरीज में जीवित रहने के लिए जीत के इरादे से मैदान पर उतरेगी. वहीं इंग्लैंड कोरोना काल में चौथी सीरीज जीत हासिल करना चाहेगा.

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही तीन मैच की टी-20 सीरीज का दूसरा मैच साउथैम्टन में ही खेला जाएगा. इस मैच में मेहमान ऑस्ट्रेलिया के पास रोमांचक मुकाबले में हुई हार का बदला लेने का मौका होगा. साथ ही सीरीज में बने रहने के लिए भी फिंच एंड कंपनी के लिए ये आखिरी ‘चांस’ है. इंग्लैंड दौरे पर गई ऑस्ट्रेलिया टीम हर हाल में इंग्लैंड को हराकर सीरीज में जीवित रहने के लिए जीत के इरादे से मैदान पर उतरेगी. वहीं इंग्लैंड कोरोना काल में चौथी सीरीज जीत हासिल करना चाहेगा.

क्या कंगारू कर पाएंगे कमबैक?

पहले टी-20 मैच में आखिरी गेंद तक हुई जंग में ऑस्ट्रेलिया को इंग्लैंड ने दो रन से हराकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल की थी. इस जीत के साथ ही इंग्लैंड इस सीरीज में ऑस्ट्रेलिया पर दबाव बनाने में कामयाब हो चुका है. लेकिन ऑस्ट्रेलियाई टीम भी हार मानने वालों में से नहीं है. पिछले मैच में डेविड वॉर्नर और कप्तान एरॉन फिंच अच्छी शुरूआत देने में सफल हुए थे. लेकिन मिडिल ऑर्डर में स्टीव स्मिथ और मैक्सवेल अपने किरदार के अनुरूप कमाल करने में चूक गए थे.

इस बार स्मिथ का बल्ला चला तो फिर इंग्लैंड के लिए मुसीबत हो सकती है. जबकि एलेक्स कैरी भी मैच पलटने का माद्दा रखते हैं. हालांकि पहले टी-20 में मार्क वुड ने उन्हें एक रन के स्कोर पर बोल्ड कर पवेलियन पहुंचा दिया था. इसके अलावा इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा ऑर्चर की घातक गेंदबाजी का तोड़ भी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को निकालना होगा.

इंग्लैंड के पास चौथी सीरीज जीतने का मौका

कोरोना काल में क्रिकेट का मंच बनने वाला इंग्लैंड लगातार जीत हासिल कर रहा है. पहले अपने घर में वेस्टइंडीज को टेस्ट में हराया, फिर आयरलैंड के खिलाफ जीत हासिल की और हाल ही में पाकिस्तान को टेस्ट में हराकर और टी-20 सीरीज ड्रॉ करने के बाद वापस भेजने वाली इंग्लैंड टीम एक बार फिर जीत की ओर बढ़ रही है.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टी-20 में कांटे की टक्कर के बाद जीत मेजबान इंग्लैंड की ही हुई थी. ऐसे में इंग्लैंड अब टी-20 सीरीज अपने नाम करने से एक कदम दूर हैं. इंग्लैंड के कप्तान इयान मोर्गन पहले मैच में सिर्फ पांच रन ही जोड़ पाए थे. लेकिन जोस बटलर और डेविड मलान लगातार शानदार फॉर्म में नजर आ रहे हैं. वहीं जॉनी बेयरस्टो पर भी जीत का दारोमादार होगा.

Related Posts