‘स्टीव स्मिथ जब मैदान पर गिरे तो मैं घबरा गया था…’, जानलेवा बाउंसर पर जोफ्रा आर्चर ने तोड़ी चुप्पी

लॉर्ड्स टेस्ट मैच के चौथे दिन इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की एक गेंद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ के कान के नीचे गर्दन पर लग गई जिससे खिलाड़ी सकते में आ गए थे.

नई दिल्ली: इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने सफाई पेश की है. जोफ्रा आर्चर का कहना है कि जब उनकी गेंद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ के गले पर लगी तो वह बुरी तरह घबरा गए थे, लेकिन कुछ ही देर बार जब स्मिथ दोबारा उठ खड़े हुए आर्चर ने राहत की सांस ली. दरअसल, जिस वक्त स्मिथ के गेंद लगी थी तो पूरे पवेलियन में सन्नाटा पसर गया था लेकिन उस वक्त आर्चर का जो व्यवहार था उसकी हर तरफ आलोचना हो रही थी.

लॉर्ड्स टेस्ट मैच के चौथे दिन इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की एक गेंद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज स्टीव स्मिथ के कान के नीचे गर्दन पर लग गई जिससे खिलाड़ी सकते में आ गए. आर्चर की गेंद लगने के बाद स्टीव स्मिथ तुरंत मैदान पर गिर गए और थोड़ी देर बाद रिटायर्ड हर्ट होकर बाहर चले गए.

स्मिथ को जब गेंद लगी तब वह 152 गेंदों पर 80 रन बना चुके थे. स्मिथ अपने लगातार तीसरे एशेज शतक के करीब पहुंच रहे थे. वह 80 रनों के निजी स्कोर पर बल्लेबाजी कर रहे थे जब आर्चर की 148 किलोमीटर प्रति घंटे से तेज गति की रफ्तार की गेंद पर उन्होंने नजरें हटा लीं और वह गेंद उनकी गर्दन पर जा लगी.

गेंद लगने के बाद आर्चर स्मिथ के पास नहीं गए थे और अंपायर की तरफ लौट लिए थे. लेकिन अब आर्चर ने सफाई पेश करते हुए कहा है कि बल्लेबाज को चोट पहुंचाने की रणनीति कभी नहीं होती. आर्चर ने बीबीसी से कहा ‘यह तय नहीं था. आपकी कोशिश पहले विकेट लेने की होती है. जब वह नीचे गिरे तो हर कोई रूक गया और हर किसी का दिल घबरा गया था.’

आर्चर ने कहा, ‘जब वह उठे और चलने लगे तब मैंने राहत की सांस ली. कोई भी किसी को स्ट्रेचर पर ले जाते हुए नहीं देखना चाहता. मेरा स्पैल अच्छा जा रहा था और मैं नहीं चाहता था कि इस तरह का अंत हो.’