Team India को मैदान पर वापसी के लिए अभी करना होगा और कितना इंतजार?

BCCI अधिकारी ने कहा कि अभी हम मॉनसून के खत्म होने का इंतजार कर रहे हैं. उसके बाद अगस्त –सितंबर में हम खिलाड़ियों को साथ लेकर उनकी तैयारियां शुरू कराएंगे ताकि वो अपने खेल पर काम कर पाएं और अपने जोन में आ सकें.
BCCI planning training of Indian cricket team players after monsoon, Team India को मैदान पर वापसी के लिए अभी करना होगा और कितना इंतजार?

भारत में अब लॉकडाउन के बाद अब धीरे-धीरे नियमों में ढील दी जाने लगी है. अनलॉक हो रहे नियमों में भारत सरकार की ओर से खेलों को शुरू करने के लिए भी रियायत दी है. लेकिन भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों को मैदान पर वापसी के लिए अभी और इंतजार करना होगा. BCCI अभी स्थिति का आंकलन कर रही है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

BCCI अधिकारी ने एक समाचार एजेंसी के साथ बातचीत में बताया की मॉनसून के बाद ही खिलाड़ियों के लिए ट्रेनिंग कैंप शुरू किया जाएगा. अगस्त-सितंबर के बीच ही हालातों को देखते हुए खिलाड़ियों को ट्रेनिंग के लिए मैदान पर उतारा जाएगा, लेकिन अभी टीम इंडिया के खिलाड़ियों को मैदान पर वापसी के लिए इंतजार करना होगा.

मॉनसून के बाद शुरू होगा टीम इंडिया का ट्रेनिंग कैंप

कोरोनावायरस की वजह से बंद हुए खेलों को अब शुरू किया जा रहा है. कई टीम अपने खिलाड़ियों के लिए कैंप लगा रही हैं, ताकि खिलाड़ी अपनी फॉर्म में आ सकें. लेकिन भारतीय खिलाड़ियों को अभी मॉनसून के खत्म होने तक का इंतजार करना होगा. BCCI अधिकारी ने कहा कि अभी हम मॉनसून के खत्म होने का इंतजार कर रहे हैं. उसके बाद अगस्त –सितंबर में हम खिलाड़ियों को साथ लेकर उनकी तैयारियां शुरू कराएंगे ताकि वो अपने खेल पर काम कर पाएं और अपने जोन में आ सकें. आपको ये समझना होगा की मसल मेमोरी का ट्यून में रहना जरूरी है और हमारे खिलाड़ी प्रोफेशनल हैं. ये शारीरिक से ज्यादा मानसिक नजरिए के लिए काफी अहम है. क्योंकि खिलाड़ियों ने लॉकडाउन के दौरान भी अपनी फिटनेस जारी रखी है. इसके अलावा ट्रेनिंग कैंप एनसीए में होगा या कहीं और इस मामले पर भी BCCI अधिकारी ने जवाब दिया. उन्होंने कहा कि अभी ये कहना बहुत जल्दबाजी होगा कि कहां खिलाड़ियों के लिए कैंप लगाए जाएंगें. फिलहाल इंटरस्टेट मूमेंट के नियमों में ढिलाई होने के बाद ये देखना होगा. अभी एक महीने हम देखेंगे कि क्या स्थिति बनती है फिर तय होगा कि नेशनल क्रिकेट एकेडमी यानी NCA में कैंप लगेगा या फिर और कहीं.

खिलाड़ियों को है ट्रेनिंग कैंप की जरूरत

हाल ही में टीवी9 भारतवर्ष के साथ कुलदीप यादव ने बातचीत में कहा था कि उन्होंने इस लॉकडाउन में सबसे ज्यादा अपनी गेंदबाजी को मिस किया. उन्होंने कहा कि सबसे पहले वो गेंद हाथ में लेकर ये देखना चाहते हैं कि उनसे बॉलिंग हो रही है या नहीं. उन्होंने कहा था कि रिदम में आने के लिए ट्रेनिंग की जरूरत होगी. क्योंकि काफी वक्त से हम अपने प्रोफेशन से दूर हो गए हैं. कुलदीप के अलावा श्रेयष अय्यर और शुभमन गिल भी मानते हैं कि लंबे वक्त क्रिकेट से दूर रहने की वजह से निक में आने के लिए ट्रेनिंग की जरूरत है. अय्यर ने कहा कि हमें कई नेट सेशन चाहिए होंगे ताकि एक बल्लेबाज अपनी टाइमिंग और मसल मेमोरी हासिल कर सके. हम एक लंबे वक्त के बाद बैट पकड़ेंगे और गेंदबाज 140 की स्पीड से गेंदबाजी करेंगे तो इसके लिए हमें कई सेशन नेट प्रैक्टिस की जरूरत होगी.

भारत में कोरोना का कहर जारी

कोरोनावायरस पूरे विश्व को अपना शिकार बना चुका है. अब तक ये महामारी लाखों लोगों की जान ले चुकी है. वहीं भारत में भी लगातार मामले बढ़ते जा रहे हैं. भारत में कोरोना पॉजिटिव मामले दो लाख के पार हो चुके हैं. इसमें करीब 6 हजार लोगों की जान भी चली गई है. इस वक्त स्थिति काफी नाजुक है.

एक ओर कोरोना का खतरा है. दूसरी ओर महाराष्ट्र और गुजरात में चक्रवात निसर्ग भी कहर बरपा रहा है. ऐसी स्थिति को देखते हुए बीसीसीआई फिलहाल खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिहाज से मॉनसून खत्म होने तक का इंतजार करना चाहती है. उसके बाद ही स्थिति के हिसाब से आगे की रणनीति बनाई जाएगी.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts