उम्र छिपाकर क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ियों के लिए BCCI का नया ‘ऑफर’

अगर रजिस्टर खिलाड़ियों ने उम्र की जानकारी छुपाई है और BCCI उसे पकड़ता है तो वो खिलाड़ी 2 साल के लिए बैन कर दिया जाएगा. दो साल के बैन के बाद भी उस खिलाड़ी को BCCI के ‘एज ग्रुप’ वाले टूर्नामेंट में हिस्सा लेने का मौका नहीं मिलेगा.
BCCI's new offer for players hiding their age, उम्र छिपाकर क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ियों के लिए BCCI का नया ‘ऑफर’

उम्र छिपाकर खेल के मैदान में उतरने वाले तमाम उदाहरण हमारे सामने हैं. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने इस मामले से निपटने के लिए 2020-2021 से अतिरिक्त सावधानी बरतने का फैसला किया है. BCCI ने ये फैसला ‘एज-ग्रुप’ वाले टूर्नामेंट के लिए किया है. BCCI ने खिलाड़ियों को ये मौका दिया है कि अगर उन्होंने अपनी उम्र को गलत बताकर रजिस्टर कराया है तो वो इसकी जानकारी बोर्ड को दे दें. खुद से सच बताने वाले खिलाड़ियों को सस्पेंड नहीं किया जाएगा और उन्हें सही उम्र वर्ग में खेलने का मौका भी मिलेगा.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

BCCI ने इसके लिए खिलाड़ियों को 15 सितंबर तक का समय दिया है. इसके लिए खिलाड़ियों को BCCI के उम्र वेरिफिकेशन करने वाले विभाग को अपने असली जन्मतिथि का दस्तावेज भेजना होगा. BCCI के अंडर-16 टूर्नामेंट में सिर्फ 14 से 16 साल के खिलाड़ियों को ही खेलने का मौका मिलेगा.

अगर सही जानकारी नहीं दी और पकड़े गए तो…

इससे उलट अगर रजिस्टर खिलाड़ियों ने उम्र की जानकारी छुपाई है और BCCI उसे पकड़ती है तो वो खिलाड़ी 2 साल के लिए बैन कर दिया जाएगा. दो साल के बैन के बाद भी उस खिलाड़ी को BCCI के ‘एज ग्रुप’ वाले टूर्नामेंट में हिस्सा लेने का मौका नहीं मिलेगा. इसके अलावा राज्य क्रिकेट के ‘एज ग्रुप’ टूर्नामेंट में भी उस खिलाड़ी पर रोक रहेगी.

BCCI ने ‘डोमिसाइल’ को लेकर भी नए नियम बनाए हैं. पुरुष और महिला टीम में ‘डोमिसाइल’ की गलत जानकारी देने वाले खिलाड़ियों पर दो साल का बैन लगेगा. गलत उम्र को लेकर खुद से जानकारी देने वाला नियम डोमिसाइल के मामले में लागू नहीं होगा.

इस मुद्दे पर सौरव गांगुली ने क्या कहा

BCCI के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने इस मामले में कहा कि- “हम सभी एज ग्रुप में खिलाड़ियों को एक जैसा मौका देने के लिए प्रतिबद्ध हैं. उम्र में धोखाधड़ी के मामले को लेकर BCCI कदम उठा रहा है. आने वाले समय में और कड़े नियम बनाए जाएंगे. वो खिलाड़ी जो खुद से अपनी गलती नहीं मानेगा और पकड़ा गया तो उसके खिलाफ सख्त कदम उठाया जाएगा और हम उसे दो साल के लिए बैन कर देंगे.

राहुल द्रविड़ ने भी उम्र की धोखाधड़ी को खेल के लिए गंभीर मामला बताया. उन्होंने कहा कि कई नए खिलाड़ी इसी वजह से नहीं खेल पाते हैं. ऐसे में खिलाड़ियों को सलाह है कि वो आगे आएं और BCCI को सही जानकारी दें.

Related Posts