वर्ल्ड कप 2019: अब मेजबान इंग्लैंड के लिए सेमीफाइनल खेलना हुई दूर की बात

इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और भारत के खिलाफ 1992 से वर्ल्ड कप में एक भी मुकाबला नहीं जीता है. उसके अगले तीन मुकाबले इन्ही तीन टीमों के खिलाफ है.

लीड्स के हेडिंग्ले मैदान पर शुक्रवार को श्रीलंका ने बड़ा उलटफेर करते हुए इंग्लैंड को 20 रनों से मात दी. इस जीत के साथ जहां श्रीलंका की सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीदें जिंदा हैं, वहीं इंग्लैंड के लिए ये दूसरी जीत बड़े झटके के रूप में आई है. बता दें कि, पिछले दो सालों की परफॉरमेंस को देखते हुए मेजबान इंग्लैंड को वर्ल्ड कप जीतने का सबसे प्रबल दावेदार माना जा रहा है.

क्यों इंग्लैंड के लिए मुश्किल हुआ सेमीफाइनल का रास्ता

इंग्लैंड की टीम के 6 मैचों में 4 जीत और दो हार के साथ 8 अंक हैं. वह अंक तालिका में अभी ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड से नीचे तीसरे स्थान पर है. उसका नेट रन रेट भी अच्छा है, लेकिन समस्या ये है कि उसके बचे हुए तीन मुकाबले उन टीमों के खिलाफ हैं जिनसे वह वर्ल्ड कप में पिछले 27 सालों में एक भी मैच नहीं जीत पाई है. उसका अगला मुकाबला ऑस्ट्रेलिया (25 जून ), इंडिया (30 जून) और न्यूजीलैंड (3 जुलाई) के खिलाफ है.

इन तीन टीमों के खिलाफ इंग्लैंड को वर्ल्ड कप में पिछले 27 सालों में एक भी जीत नहीं मिली है. ऑस्ट्रेलिया की बात करें तो इंग्लैंड ने उनके खिलाफ 1992 से 3 मुकाबले खेले हैं और सभी तीनों मैचों में उसे हार का सामना करना पड़ा है. दूसरे विपक्षी भारत की बात करें तो इंग्लैंड ने उसके खिलाफ 3 मुकाबले खेले हैं, जिसमे उसे दो में हार मिली है और एक मुकाबला (2011) टाई रहा है. वहीं तीसरे विपक्षी न्यूजीलैंड के खिलाफ उसका प्रदर्शन सबसे खराब रहा है. न्यूजीलैंड के खिलाफ इंग्लैंड ने 1983 से 5 वर्ल्ड कप मुकाबले खेले हैं और सभी मुकाबलों में उसे हार का सामना करना पड़ा है. ऑस्ट्रेलिया और भारत के खिलाफ इंग्लैंड 1992 से जीत नहीं दर्ज कर पाई है.

अगर इंग्लैंड का इन टीमों के खिलाफ प्रदर्शन वैसा ही रहता है और उसे हार का सामना करना पड़ता है तो उसके 9 मैचों में 8 अंक ही रह जाएंगे.

ये भी पढ़ें: IND vs AFG: फिट हैं विजय शंकर, प्लेइंग-XI में केवल एक बदलाव से संतोष कर लेगी टीम इंडिया

श्रीलंका और बांग्लादेश की उम्मीदें जागी 

श्रीलंका ने इंग्लैंड को हराकर इस वर्ल्ड कप में 6 मैचों में दूसरी जीत दर्ज की है. इसके साथ ही उसके दो मुकाबले बारिश में धुल गए हैं, जिसका एक हिसाब से उसको फायदा हुआ है और अब उसके 6 मैचों में 6 अंक हैं. वह अंक तालिका में पांचवें स्थान पर है. उसके अगले तीन मुकाबले- दक्षिण अफ्रीका, वेस्ट इंडीज और इंडिया के खिलाफ हैं. इसमें से अगर वह दो मुकाबले जीतने में कामयाब रहती है तो उसकी सेमीफाइनल में जाने की संभावना बढ़ जाएगी.

बांग्लादेश की बात करें तो उसके 6 मैचों में 3 हार और 2 जीत के साथ 5 अंक हैं. अंक तालिका में वह छठे स्थान पर है. उसके पक्ष में जो बात जाती है वह ये है कि उसके तीन में  से दो मुकाबले कमजोर टीमों के खिलाफ हैं. उसका अगला मुकाबला अफगानिस्तान के खिलाफ है, इसके बाद वह इंडिया और पाकिस्तान के खिलाफ खेलेगी. बांग्लादेश के लिए अफगानिस्तान वाला मैच आसान रहेगा. वहीं वह पाकिस्तान को भी पटकनी देने का माद्दा रखती है.

ये भी पढ़ें: 2019 World Cup: विश्वकप का बड़ा उलटफेर, श्रीलंका ने इंग्लैंड को 20 रनों से हराया