जानें पहली महिला अम्पायर क्लेयर पोलोसाक को, जिसने पुरुषों के वनडे मैच में की अम्पायरिंग

उन्होंने पिछले साल इंग्लैंड और भारत के बीच खेले गए महिला टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल में भी अम्पायरिंग की थी.

दुबई: आस्ट्रेलिया की क्लेयर पोलोसाक पुरुष वनडे मैच में अम्पायरिंग करने वाली पहली महिला बन गई हैं. नामीबिया और ओमान के बीच खेले जा रहे आईसीसी वल्र्ड क्रिकेट लीग डिविजन-2 के फाइनल मैच में 31 वर्षीय क्लेयर ने यह उपलब्धि हासिल की.

इससे पहले, क्लेयर महिलाओं के 15 वनडे मैच में अम्पायरिंग कर चुकी हैं. साल 2016 में आस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका की महिला टीम के बीच हुए वनडे मैच में उन्होंने पहली बार अंपायरिंग की थी. उन्होंने पिछले साल इंग्लैंड और भारत के बीच खेले गए महिला टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल में भी अम्पायरिंग की थी.

क्लेयर ने कहा, “मैं पुरुषों के वनडे मैच में अम्पायरिंग करने वाली पहली महिला बनकर बहुत उत्साहित महसूस कर रही हूं. एक अंम्पायर के रूप में मैंने बहुत लंबा सफर तय किया है. महिला अम्पायरों को प्रमोट करना बहुत महत्वपूर्ण है और महिलाएं निश्चित रूप से अम्पायरिंग कर सकती हैं. बाधाओं को तोड़ते हुए जागरुकता फैलाने की आवश्यकता है ताकि अधिकतक महिलाएं इस भूमिका को निभा सके.”

क्लेयर 2017 में महिला वनडे विश्व कप के 4 मुकाबलों में भी अम्पायरिंग की जिम्मेदारी निभा चुकी हैं. वह आस्ट्रेलिया के घरेलू क्रिकेट में पुरुषों के मैच में अम्पायरिंग करने वाली पहली महिला अम्पायर बनी थीं.

पिछले साल दिसंबर में क्लेयर और दक्षिण आस्ट्रेलिया की एलोइस शेरीडेन ने महिला बिग बैश लीग में अम्पायरिंग की थी. यह पहला मौका था जब आस्ट्रेलिया में पेशेवर क्रिकेट में दोनों फील्ड अम्पायर महिलाएं थीं.

ये भी पढ़ें: 19 साल पहले धोनी ने किया था पिता का शिकार, अब बेटे को किया ‘आउट’