400 रन बना सकते थे वॉर्नर, लेकिन टिम पेन ने उन्हें इतिहास रचने से रोक लिया, आखिर क्यों?

पेन ने जब पारी घोषित की तब डेविड वॉर्नर 335 रनों पर नाबाद थे और टीम का स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 589 रन था.

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन का पाकिस्तान के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन शनिवार को पारी घोषित करना उनके लिए सिरदर्द बन गया. पेन ने जब पारी घोषित की तब डेविड वॉर्नर 335 रनों पर नाबाद थे और टीम का स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 589 रन था. पेन की इस घोषणा ने वॉर्नर से 400 रन बनाने का मौका छीन लिया. इस पर सोशल मीडिया पर पेन की काफी आलोचना की जा रही है.

एक यूजर ने लिखा, “टिम पेन भाई मैं इस बात का कोई कारण नहीं ढूंढ पा रहा हूं कि आपने क्यों डेविड वॉर्नर को 400 रन बनाने से महरूम कर दिया. सिर्फ 127 ओवर हुए थे और साढ़े तीन दिन का खेल बचा था. ऑस्ट्रेलिया पहले ही सीरीज में बढ़त लिए हुए है. अगर पाकिस्तान 350 भी बना लेती तो आपको दोबारा बल्लेबाजी का मौका मिलता. भाई आपके बिना ऑस्ट्रेलिया ने क्या खोया है.”

एक और यूजर ने पेन के इस फैसले को दुखद बताया है, “टिम पेन ने एक खिलाड़ी के जीवन में आने वाले एक मात्र और सबसे बड़े मौके को छीन लिया. अगर डेविड वॉर्नर विकेट पर 10-11 ओवर और रहते तो वह आसानी से ब्रायन लारा के रिकॉर्ड तो तोड़ देता.”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “यह ऑस्ट्रेलिया के लिए आसान जीत होने वाली है.. निश्चित टिम पेन किसी चीज को लेकर ईष्या कर रहे होंगे. वह जानते थे कि अगर वह पारी को आगे बढ़ाते हैं तो वॉर्नर 370-380 तक पहुंच जाएंगे और फिर इसके बाद पारी घोषित करना ठीक नहीं होगा.”

एक और प्रशंसक ने लिखा कि पेन को ड्रिंक्स ब्रेक में वॉर्नर को बता देना चाहिए था कि वह अपने 400 रन पूरे कर लें. उन्होंने लिखा, “टिम पेन को 10 ओवर और इंतजार करना चाहिए था. उन्हें ड्रिंक्स ब्रेक में वॉर्नर को संदेश भेज देना चाहिए था कि वह जल्दी अपने 400 पूरे कर लें.”