हार..हार..और हार.. अब यही है पाकिस्तान क्रिकेट टीम की नई पहचान

पिछले करीब 2 महीने से पाकिस्तान क्रिकेट के हालात बद से बदतर हो चुके हैं. विश्व क्रिकेट में जिस टीम का कभी रुतबा हुआ करता था. आज वो एक स्कूली टीम की तरह खेलती दिखी.

एक और शर्मनाक हार के साथ पाकिस्तान क्रिकेट टीम का ऑस्ट्रेलिया दौरा खत्म हो गया. टी-20 सीरीज के साथ हार का जो सिलसिला शुरू हुआ था वो टेस्ट सीरीज में बड़ी हार के साथ खत्म हुआ. कई बदलावों के साथ ऑस्ट्रेलिया गई पाकिस्तान टीम के लिए न तो हालात बदले और न ही किस्मत. अब शर्म से लटके हुए चेहरे के साथ खिलाड़ी वापस मुल्क लौटेंगे.

एडिलेड टेस्ट मैच में पाकिस्तान की शर्मनाक हार हुई. ऑस्ट्रेलिया के सामने पाकिस्तान ने सरेंडर कर दिया. पिछले करीब 2 महीने से पाकिस्तान क्रिकेट के हालात बद से बदतर हो चुके हैं. विश्व क्रिकेट में जिस टीम का कभी रुतबा हुआ करता था. आज वो एक स्कूली टीम की तरह खेलती दिखी.

पाकिस्तान को हार पसंद है

एडिलेड टेस्ट मैच में डेविड वॉर्नर के तिहरे शतक ने पाकिस्तान की हार पर मुहर लगा दी थी. पाकिस्तान की फ्लॉप हुई गेंदबाजी के बाद उनके बल्लेबाजों से किसी चमत्कार की उम्मीद नहीं थी. ऑस्ट्रेलिया ने 589 रन पर पारी घोषित की थी. इस स्कोर को पार करने में पाकिस्तान दो बार आउट हुआ, लेकिन ये आंकड़ा तक छू न पाया. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों के सामने घुटने टेकते हुए 20 विकेट चौथे दिन ही दे दिए.

एडिलेड टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को पारी और 48 रन से हराया. एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में पाकिस्तान ने 302 बनाए. जिसमें पाकिस्तान के स्पिनर यासिर शाह ने शतक लगाया, लेकिन वो भी व्यर्थ हो गया. दूसरी पारी में 239 रन पर ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने पाकिस्तान की पूरी टीम को समेट दिया. पाकिस्तान के नए टेस्ट कप्तान अजहर अली तो दोनों पारियों में फ्लॉप साबित हुए.

इससे पहले ब्रिसबेन टेस्ट में पाकिस्तान को पारी और 5 रन से हार शर्मनाक हार झेलनी पड़ी थी. इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने 2-0 से पाकिस्तान को टेस्ट सीरीज क्लीन स्वीप किया. सफेद जर्सी या फिर मैदान की बात नहीं है. इससे पहले अपनी हरी जर्सी में भी पाकिस्तान का हाल यही था. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला टी-20 मैच बारिश में धुलने के बाद सीरीज के बाकी दो मैच में भी पाकिस्तान की टीम अपनी इज्जत नहीं बचा पाई थी और कंगारुओं ने दोनों मैच में पाकिस्तान को पटखनी देकर टी-20 सीरीज अपने नाम की थी.

हार कर आए थे हार कर ही लौटेंगे

पाकिस्तान क्रिकेट टीम का ऐसा हाल तब हुआ जब ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने सरफराज अहमद को कप्तानी से हटाकर टेस्ट में अजहर अली और टी-20 में बाबर आजम को कप्तान बनाया, लेकिन ये दोनों कप्तान भी पाकिस्तान की फ्लॉप किस्मत को फ्लिप नहीं कर पाए. सरफराज को हटाया इसलिए था क्योंकि अपने घर में पाकिस्तान को श्रीलंका की बी टीम से क्लीन स्वीप का सामना करना पड़ा था. श्रीलंका की बी टीम ने पाकिस्तान को टी-20 सीरीज में 3-0 से सूफड़ा साफ किया.

हार..हार..और हार.. सिर्फ यही पाकिस्तान क्रिकेट टीम की पहचान है…. हर हार के बाद पाकिस्तान में बवाल होता है. हर शिकस्त के बाद फैंस जज्बाती होते हैं. हर जिल्लत के बाद पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर्स आहत होते हैं, लेकिन पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड, मैंनेजमैंट और टीम पर इसका कोई खास असर होता हुआ दिख नहीं रहा है. उसी का परिणाम है पाकिस्तान से सात समंदर पार का सफर तय कर ऑस्ट्रेलिया पहुंची टीम के प्रदर्शन में कोई तबदीली नहीं आई. हार कर आए थे और हार कर ही लौटेंगे.

ये भी पढ़ें: भारतीय क्रिकेट में सट्टेबाजों की पहुंच कहां तक? सौरव गांगुली ने किया बड़ा खुलासा