Exclusive: कौन हैं क्षितिज नाविद कौल? जिन्होंने पहले ही साल में जीत लिया गोल्फ का सबसे बड़ा अवॉर्ड

क्षितिज नाविद कौल ने बेहद छोटी उम्र से ही गोल्फ खेलना शुरू कर दिया था. ऐसे में आज अगर लोग गोल्फ को पसंद कर रहे हैं तो इसमें क्षितिज का भी अहम रोल है.

क्षितिज नाविद कौल, गोल्फ की दुनिया का एक ऐसा सितारा जिसने बेहद छोटी उम्र से ही ये सीख लिया था कि उसे इस खेल में कुछ बड़ा करना है. बचपन में पिता के साथ गोल्फ कोर्स जाने वाले इस खिलाड़ी को शायद ये अंदाजा नहीं होगा कि भविष्य में एक दिन पीजीटाई (प्रोफेशनल गोल्फ टूर ऑफ इंडिया) की तरफ से इन्हें सबसे कम उम्र में टाइटल जीतने वाले खिलाड़ी का दर्जा मिलेगा. पिछले साल पुणे में ओपन गोल्फ चैंपियनशिप के फाइनल दिन जीत हासिल कर क्षितिज ने गोल्फ को एक अलग रूप दिया.

साल 2018 में क्षितिज ने पैनासोनिक ओपन गोल्फ टूर्नामेंट में डेब्यू किया था. इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. 2009 से 2016 के बीच क्षितिज ज्यादातर सालों में इंडियन गोल्फ यूनियन की मेरिट लिस्ट में रहे. जूनियर गोल्फर के रूप में क्षितिज ने अपने नाम कुल 40 खिताब किए हैं. मलेशिया में हुए अमेचर चैंपियनशिप में क्षितिज ने सिल्वर मेडल जीता है तो वहीं 18वें एशियन गेम्स में वो भारत का प्रतिनिधित्व भी कर चुके हैं.

टीवी9 भारतवर्ष ने क्षितिज के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत की. इस बातचीत में क्षितिज ने कई अहम सवालों के जवाब दिए जिसमें उन्होंने बताया कि अब उनका अगला टारगेट क्या है तो वहीं लॉकडाउन के दौरान वो अपना अभ्यास कैसे करते थे.

सवाल- जवाब

सवाल- आपने लॉकडाउन के दौरान कैसे अभ्यास किया?

जवाब– लॉकडाउन का समय खुद में सुधार के लिए था. भावनात्मक और आध्यात्मिक रूप से मैंने ट्रेनिंग की और खुद के खेल में सुधार करने की कोशिश की. घर पर अभ्यास करना थोड़ा मुश्किल था लेकिन मैंने सिर्फ ड्रील ही किया. हालांकि मैं यहां अपने आप को नसीब वाला मानता हूं क्योंकि मैंने अपने घर के करीब पार्क में कुछ शॉट्स मारे.

सवाल- आपके लिए अगला टारगेट क्या है और कौन से टूर्नामेंट्स पर नजर है?

जवाब– नवंबर से प्रोफेशनल गोल्फ टूर इंडिया की शुरुआत होने वाली है और मैं इसके लिए काफी उत्साहित हूं. मैं जल्द से जल्द प्रतिस्पर्धी सर्किट में वापस आना चाहता हूं.

सवाल- गोल्फ में आपका आर्दश कौन है?

जवाब: बिना किसी राय के मुझे टाइगर वुड्स बेहद पंसद हैं और मैं उन्हें ही अपना आदर्श मानता हूं.

सवाल- पिछले मुकाबलों में मिली जीत और प्रदर्शन पर क्या कहना चाहते हैं?

जवाब– मैंने जूनियर और अमेचर लेवल पर कई खिताब जीते हैं. पेशेवर रूप से मैंने पिछले साल पुणे ओपन 2019 चैंपियनशिप जीता था. वहीं सिटीबैंक अमेरिकन एक्सप्रेस चटगांव ओपन और अतुल्य इंडिया जयपुर ओपन में मैं रनरअप रहा था.

सवाल- इतने दिन बाद आपकी वापसी होगी, ऐसे में आपकी रणनीति है?

जवाब– मैं वापसी का इंतजार कर रहा हूं. इसके लिए मैं लगातार ट्रेन भी कर रहा हूं जिससे मैं गेंद और दूरी पर मार सकूं. ऐसे में ये सारी चीजें मेरे खेल को अगले लेवल पर ले जाने में मदद करेंगी. मैं इंटरनेशनल लेवल पर भी खेलने के लिए अब पूरी तरह से तैयार हूं.

Related Posts