मेगन रेपिनो: कॉर्नर-किक से गोल करने वाली इकलौती खिलाड़ी, डोनाल्‍ड ट्रंप से ले चुकी हैं पंगा

लंदन ओलंपिक के दौरान उन्होंने कॉर्नर-किक से सीधा गोल दागा था. पुरुष या महिला, दोनों के टूर्नामेंट्स में ऐसा करने वाली मेगन इकलौती खिलाड़ी हैं.

नई दिल्‍ली: अमेरिका की फुटबॉल टीम ने लगातार दूसरी बार FIFA महिला विश्‍व कप जीता है. फाइनल में नीदरलैंड्स को 2-0 से हरा चौथी बार अमेरिका महिला फुटबॉल का सिरमौर बना. इस जीत की नायिका रहीं मेगन रेपिनो, जिन्‍होंने पेनाल्‍टी से शानदार गोल करते हुए टीम को बढ़त दिलाई. मेगन ने टूर्नामेंट के 5 मैचों में 6 गोल किए और ‘गोल्‍डन बूट’ अपने नाम किया.

बतौर मिडफील्‍डर, मेगन रेपिनो दुनिया की सबसे मशहूर फुटबॉलर्स में से एक हैं. फुटबॉल स्‍टार होने के नाते मेगन कई मौकों पर संदेश देती रही हैं. दो साल पहले वे मैच से पहले राष्‍ट्रगान के दौरान घुटनों पर बैठ गई थीं. बाद में उन्‍होंने कारण बताते हुए कहा कि ऐसा उन्‍होंने नस्‍लीय असमानता का विरोध करने की खातिर किया था.

मेगन के ऐसा करने के बाद अमेरिकी फुटबॉल में राष्‍ट्रगान के समय खड़े होना अनिवार्य कर दिया गया. हालांकि फ्रांस में हुए वर्ल्‍ड कप के दौरान मेगन ने ऐसा नहीं किया और अपनी छाती पर हाथ रखे रहीं.

कॉर्नर-किक से सीधा गोल करने वाली इकलौती फुटबॉलर

मेगन रेपिनो ओलंपिक गोल्‍ड मेडल भी जीत चुकी हैं. उनके नाम फुटबॉल जगत में एक अनूठी उपलब्धि है. लंदन ओलंपिक के दौरान उन्होंने कॉर्नर-किक से सीधा गोल दागा था. पुरुष या महिला, दोनों के टूर्नामेंट्स में ऐसा करने वाली मेगन इकलौती खिलाड़ी हैं.

मेगन रेपिनो, मेगन रेपिनो: कॉर्नर-किक से गोल करने वाली इकलौती खिलाड़ी, डोनाल्‍ड ट्रंप से ले चुकी हैं पंगा

मेगन ने फाइनल से पहले FIFA पर लैंगिक असमानता को लेकर हमले किए थे. वह पुरुषों और महिलाओं के टूर्नामेंट्स की प्राइज मनी में भारी अंतर से नाराज थीं. वह समलैंगिक हैं और विश्‍व कप जीत के बाद उन्‍होंने अपनी गर्लफ्रेंड सू बर्ड को चूमा.

बर्ड बास्‍केटबॉल खेलती हैं और घुटने की सर्जरी की वजह से फिलहाल बाहर हैं, मगर वह मेगन का हौसला बढ़ाने फ्रांस पहुंची थीं. मेगन रेपिनो LGBTQ के अधिकारों की मांग उठाती रही हैं. उन्‍होंने 2012 में सार्वजनिक किया था कि वह समलैंगिक हैं.

ट्रंप की वजह से व्‍हाइट हाउस में जाने से किया था इनकार

मेगन वही एथलीट हैं जिन्‍होंने विश्‍व कप से पहले कहा था कि अगर अमेरिकी टीम टूर्नामेंट जीतती है तो वह व्‍हाइट हाउस नहीं जाएंगी. उन्‍होंने अपशब्‍दों का प्रयोग किया जिसके बाद राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा था कि टीम को पहले जीतने पर ध्‍यान देना चाहिए. ट्रंप ने कहा था कि टीम हारे या जीते वे उसे व्हाइट हाउस में बुलाएंगे.

मेगन को हिदायत देते हुए ट्रंप ने कहा था कि उन्‍हें देश, व्‍हाइट हाउस और राष्‍ट्रध्‍वज का अपमान नहीं करना चाहिए. ट्रंप की आलोचना के जवाब में मेगन ने कहा था कि वह राष्‍ट्रपति से अन्‍य कामों पर ध्‍यान देने की अपेक्षा रखती हैं, ना कि उन्‍हें लेकर ट्रंप की बातों पर.

ट्रंप ने महिला फुटबॉल टीम की जीत के बाद जो ट्वीट किया, उसमें मेगन रेपिनो का नाम नहीं लिया.

ये भी पढ़ें

अमेरिका ने नीदरलैंड को हराया, लगातार चौथी बार जीता विश्व कप खिताब

इन 2 टीमों के बीच खेला जाएगा फाइनल मुकाबला, दक्षिण अफ्रीकी कप्तान की भविष्यवाणी