IPL सट्टेबाजी के जाल में फंसा बड़ा नाम, पुलिस ने मामले में 19 लोगों को किया गिरफ्तार

IPL सट्टेबाजी में पुलिस ने महिला क्रिकेट टीम के पूर्व कोच तुषार अरोठे को वड़ोदरा से गिरफ्तार किया है. 18 अन्‍य लोग भी पकड़े गए हैं, पुलिस ने उनके फोन और वाहन भी जब्‍त कर लिए हैं.

अहमदाबाद. भारतीय महिला क्रिकेट टीम के पूर्व कोच व पूर्व रणजी ट्राफी खिलाड़ी तुषार अरोठे को IPL में सट्टेबाजी के आरोप में गुजरात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उनकी गिरफ्तारी वड़ोदरा से सोमवार देर रात को हुई. डीसीपी क्राइम ब्रांच जेएस जडेजा का कहना है, “हमने एक कैफे में छापेमारी के दौरान 18 अन्य लोगों के साथ तुषार अरोठे को गिरफ्तार किया है. उनके फोन और वाहन भी जब्त कर लिए गए हैं.”

अरोठे को अलकापुरी में उनके कैफ़े से गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने 19 लोगों की गिरफ्तारी की, जिसमे अरोठे और उनके कैफे के दो पार्टनर हेमांग पटेल और निश्चल मीठा भी हैं. सूत्रों से मालूम चला है कि हेमांग सोमवार रात को दिल्ली कैपिटल्स और किंग्स XI पंजाब के बीच चल रहे IPL मुकाबले में सट्टा लगा रहे थे. पुलिस ने छापा मारा और ऐसे 19 फ़ोन जब्त किये जिसमे एप्लीकेशन के जरिए सट्टा लगाया जा रहा था. इसके बाद पुलिस ने गिरफ्तारी की.

सभी आरोपियों को बाद में बेल पर रिहा कर दिया गया. लेकिन, उनके फ़ोन और वाहन को जब्त कर लिया गया है. हालांकि पुलिस को अरोठे के मोबाइल में कोई भी बेटिंग एप्लीकेशन नहीं मिला है. अरोठे ने बताया “मैं पुलिस के अंदर आने से 20 मिनट पहले ही कैफे में पहुंचा था. मैं किसी भी तरह की सट्टेबाजी में शामिल नहीं हूं. पुलिस ने मेरा मोबाइल फोन चेक किया और उसमे कोई सट्टेबाजी का ऐप नहीं मिला.” उन्होंने आगे कहा “मुझे नहीं पता कि मुझे क्यों गिरफ्तार किया गया है. अगर कुछ ग्राहक मेरे कैफे में आते हैं और मोबाइल ऐप्स पर सट्टा लगाते हैं, तो मुझे ये कैसे पता चलेगा? जहां तक ​​हेमांग का सवाल है, वह कैफे में एक भागीदार है. लेकिन, वह हमेशा अपने दोस्तों के साथ यहां बैठते हैं. मुझे नहीं पता कि वह सट्टा लगा रहा था. मैंने कोई अवैध गतिविधि नहीं की है और मैं अपने सम्मान के लिए लड़ूंगा.” हालांकि डीसीपी का कहना है कि अरोठे को भनक थी कि कैफे में सट्टा लगाया जा रहा है.

बता दें कि तुषार अरोठे ने जुलाई 2018 में व्‍यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए महिला टीम के कोच के पद से इस्‍तीफा दे दिया था. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने उनका इस्‍तीफा स्‍वीकार कर लिया था. अरोठे के कार्यकाल में महिला टीम ने 2017 के आईसीसी महिला वर्ल्‍ड कप के फाइनल में पहुंची थी.