IND vs AUS : टीम इंडिया के हर खिलाड़ी ने कुछ यूं लिखी जीत की दास्तां

एडम जाम्पा भी इस बार कोहली को फंसा नहीं पाए, लेकिन इस बार वह रोहित को अपने जाल में फंसाने में सफल रहे. जाम्पा की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में रोहित, स्टार्क के हाथों लपके गए.

India vs Australia Third Odi match, IND vs AUS : टीम इंडिया के हर खिलाड़ी ने कुछ यूं लिखी जीत की दास्तां

बेंगलुरू: शीर्ष स्तर के गेंदबाजों के खिलाफ शीर्ष स्तर की बल्लेबाजी क्या होती है यह भारतीय उपकप्तान रोहित शर्मा (119) और कप्तान विराट कोहली (89) ने रविवार को एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में बताया और भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे और आखिरी वनडे में सात विकेट से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई.

इन दोनों के काम को अंजाम तक पहुंचाया श्रेयस अय्यर (नाबाद 44) ने. ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत को 287 रनों का लक्ष्य दिया जिसे भारत ने 47.3 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया. इसी के साथ भारत ने तीन मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम की.

मुंबई में खेले गए पहले मैच में भारत को बुरी तरह से हार मिली थी. राजकोट में खेले गए दूसरे मैच में भारत ने कड़ी प्रतिस्पर्धा दिखाते हुए मैच जीत सीरीज बराबर कर ली और फिर रविवार को बेंगलुरू में एकतरफा प्रदर्शन कर सीरीज अपने नाम की.

शिखर धवन फील्डिंग के दौरान चोटिल हो गए थे इसलिए बल्लेबाजी करने नहीं आए. भारतीय टीम के सामने एक इनफॉर्म बल्लेबाज की कमी पूरी करने की चुनौती थी. ऊपर से उनके स्थान पर सलामी बल्लेबाजी करने आए लोकेश राहुल (19) 69 के कुल स्कोर पर आउट हो गए.

यहां भारत पर संकट था क्योंकि कोहली और रोहित साझेदारी नहीं करते तो भारतीय मध्य क्रम के बूते जीत हासिल करना बेहद मुश्किल था. कप्तान और उप-कप्तान इस बात को अच्छे से जानते थे कि उन्हें साझेदारी करने की जरूरत है तभी टीम जीत हासिल कर सकती है.

दोनों ने बिल्कुल यही किया और दूसरे विकेट के लिए 137 रनों की साझेदारी कर भारत को जीत के रास्ते पर बनाए रखा. इस बीच दोनों बल्लेबाजों ने दबाव से बखूबी निपटते हुए शतकीय साझेदारी पूरी की. कोहली इसी दौरान वनडे में सबसे तेजी से पांच हजार रन बनाने वाले कप्तान बने तो रोहित वनडे में सबसे तेजी से 9000 रन पूरे करने वाले तीसरे बल्लेबाज बने. इन दोनों के सामने न मिशेल स्टार्क चले और न ही पैट कमिंस.

एडम जाम्पा भी इस बार कोहली को फंसा नहीं पाए, लेकिन इस बार वह रोहित को अपने जाल में फंसाने में सफल रहे. जाम्पा की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में रोहित, स्टार्क के हाथों लपके गए. रोहित ने 128 गेंदों की पारी में आठ चौके और छह छक्के मारे. उनका विकेट 206 के कुल स्कोर पर गिरा.

अय्यर ने रोहित की कमी पूरी की और अपने कप्तान को अपना खेल खेलने की आजादी दी. अय्यर ने साथ ही अपने बल्ले से भी तेजी से रन बनाए. भारत को जीत के लिए जब 13 रनों की दरकार थी तभी जोश हेजलवुड ने कोहली को बोल्ड कर शतक पूरा नहीं करने दिया। कोहली ने अपनी पारी में 91 गेंदें खेलीं और आठ चौके लगाए.

अय्यर के साथ मनीष पांडे ने नाबाद आठ रन बनाते हुए टीम को जीत दिलाई. अय्यर ने अपनी पारी में 35 गेंदों का सामना किया. उनकी पारी में छह चौके और एक छक्का लगाया. इससे पहले, टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव स्मिथ (131) के शानदार शतक की मदद से 50 ओवरों में नौ विकेट पर 286 रनों का स्कोर बनाया.

ऑस्ट्रेलिया की शुरूआत खराब रही और मेहमान टीम ने 8.5 ओवर में 46 रन तक अपने दोनों ओपनरों- डेविड वार्नर (3) और कप्तान एरॉन फिंच (19) के विकेट गंवा दिया.

वॉर्नर को मोहम्मद शमी ने विकेटकीपर राहुल के हाथों कैच कराया जबकि फिंच गलतफहमी का शिकार होकर रन आउट हो गए. इसके बाद स्मिथ और अपना तीसरा वनडे खेल रहे मार्नश लाबुशैन (54) ने तीसरे विकेट के लिए 127 रनों की साझेदारी करके ऑस्ट्रेलिया को मजबूती दी. ऑस्ट्रेलिया ने फिर 173 के स्कोर पर ही लाबुशैन और बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजे गए मिशेल स्टार्क (0) के रूप में लगातार दो विकेट खो दिए. दोनों बल्लेबाजों को रवींद्र जडेजा ने अपना शिकार बनाया.

लाबुशैन ने 64 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से अपने करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया. लाबुशैन के आउट होने के बाद स्मिथ ने एलेक्स कैरी (35) के साथ मिलकर पांचवें विकेट के लिए 58 रन जोड़े. मजबूत होती जा रही इस साझेदारी को कुलदीप यादव ने तोड़ा. कुलदीप ने 231 के स्कोर पर कैरी को आउट करके मेहमानों को पांचवां झटका दिया. स्मिथ ने दूसरे छोर पर खड़े रहते हुए अपने करियर का नौवां शतक पूरा किया.

पिछले मैच में मात्र दो रन से शतक से चूकने वाले स्मिथ ने 117 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया. स्मिथ का भारत के खिलाफ यह तीसरा शतक है. वह टीम के 273 के स्कोर पर सातवें बल्लेबाज के रूप में आउट हुए. स्मिथ ने अपनी पारी में कुल 132 गेंदों का सामना किया, जिसमें उन्होंने 14 चौके और एक छक्का लगाया. स्मिथ को शमी ने अय्यर के हाथों कैच कराया. शमी ने अपने इसी ओवर में पैट कमिंस (0) को भी बोल्ड करके ऑस्ट्रेलिया को आठवां झटका दिया.

उनके अलावा एश्टन टर्नर ने चार, एश्टन एगर ने नाबाद 11, एडम जम्पा ने एक और हेजलवुड ने नाबाद एक रन बनाए. भारत की ओर से शमी ने सर्वाधिक चार, जडेजा ने दो और नवदीप सैनी तथा कुलदीप यादव ने एक-एक विकेट चटकाए.

Related Posts