IND vs BAN: दूसरा T-20 मैच आज, राजकोट में हारना मना है!

तीन मैच की सीरीज में टीम इंडिया 0-1 से पीछे है. सीरीज में वापसी के लिए टीम इंडिया को ये मैच जीतना ही होगा. टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) कह चुके हैं कि राजकोट में टीम इंडिया का अप्रोच अलग होगा.

आज राजकोट (Rajkot T20 Match) में भारत और बांग्लादेश (India vs Bangladesh) के बीच दूसरा टी-20 मुकाबला खेला जाएगा. इस मैच में टीम इंडिया (Team India) पर सीरीज गंवाने का खतरा मंडरा रहा है. वहीं दूसरी ओर मैच पर भी खतरे के बादल मंडरा रहे हैं. दिल्ली में पहला टी-20 गंवाने के बाद अब राजकोट में टीम इंडिया के सामने जीत हासिल करने की चुनौती है.

वो गलतियां जो टीम इंडिया ने दिल्ली में की थीं, उसे राजकोट में दोहराना भारी पड़ सकता है. इसलिए टीम इंडिया को इन गलतियों से सबक लेकर जीत की पटरी पर लौटना होगा. वरना इस बार मैच ही नहीं बल्की सीरीज भी हाथ से जा सकती है.

राजकोट में हारना मना है
तीन मैच की सीरीज में टीम इंडिया 0-1 से पीछे है. सीरीज में वापसी के लिए टीम इंडिया को ये मैच जीतना ही होगा. टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) कह चुके हैं कि राजकोट में टीम इंडिया का अप्रोच अलग होगा. क्योंकि दिल्ली में टीम इंडिया पिच के हिसाब से खेली पर जहां तक दिल्ली में खिलाड़ियों का प्रदर्शन का सवाल है, उसमें कई खिलाड़ियों को देखकर ऐसा लग रहा था, मानों वो टीम के लिए कम और टी-20 वर्ल्ड कप में अपनी जगह बनाने के लिए ज्यादा खेल रहे थे.

जिस अंदाज में बल्लेबाजी हुई वो टीम के लिए कम और अपने लिए खेली गई पारी ज्यादा लगी. चाहे वो ऋषभ पंत हों या फिर शिखर धवन ही क्यों ना हों. बहरहाल खिलाड़ियों को समझना होगा कि अगर टीम हारती है तो व्यक्तिगत प्रदर्शन के कोई मायने नहीं रह जाते हैं.

गलतियां पड़ेंगी भारी
दिल्ली टी-20 में टीम इंडिया ने फील्डिंग में लापरवाही की, कैच छोड़े. दूसरी ओर ऋषभ पंत विकेट के पीछे बिलकुल फेल साबित हुए. उनकी वजह से टीम इंडिया ने DRS के मौके गंवाए. सही वक्त पर DRS ना लेने की वजह से ही मुशफिकुर रहीम टीम इंडिया पर भारी पड़े. एक वक्त वो 6 रन के स्कोर पर पवेलियन लौट सकते थे लेकिन DRS ना लेने की वजह से वो बच गए.

एक वक्त तो मैदान पर धोनी-धोनी की गूंज दी. फैंस गलत DRS लिए जाने पर इतने नाराज थे कि उन्हें धोनी की याद आ गई जो अपने सटीक DRS के फैसले के लिए जाने जाते हैं. धोनी फिलहाल टीम में नहीं हैं, ऐसे में DRS लेने में रोहित शर्मा को और समझदारी दिखानी पड़ेगी.

पिच को पढ़ना जरूरी
दिल्ली में पिच शुरुआत में धीमी थी जिसकी वजह से वहां शॉट्स खेलने में मुश्किल हो रही थी. राजकोट में बादल छाए होंगे ऐसे में तेज गेंदबाजों को मदद मिल सकती है. हालांकि राजकोट में हाइ स्कोरिंग मैच हुए हैं और यहां हुए 2 टी-20 मैच मे कुल 755 रन बने हैं. परेशानी ये है कि राजकोट में टीम इंडिया का रिकॉर्ड कुछ खास नहीं रहा है.

यहां टीम इंडिया ने 2 मैच खेले हैं. एक में उसे जीत मिली जबकी दूसरे में हार. राजकोट में ये तीसरा मैच खेला जाएगा. राजकोट में मैच के दौरान बारिश भी हो सकती है और अगर मैच छोटा हुआ तो टीम इंडिया मुश्किल में फंस सकती है. क्योंकि मैच पूरा ना होने पर सीरीज में बांग्लादेश अजेय बढ़त बना लेगी.