शाकिब अल हसन से निपट लिए तो टीम इंडिया का सेमीफाइनल टिकट पक्‍का

भारत को 2 जुलाई को बांग्‍लादेश से मुकाबला करना है. इस मैच में भारत और जीत के बीच सबसे बड़ा रोड़ा हैं शाकिब अल हसन.

नई दिल्‍ली: वर्ल्‍ड कप 2019 में भारत और सेमीफाइनल बर्थ के बीच का अंतर ज्‍यादा नहीं रह गया है. टीम इंडिया को दो मैच खेलने हैं और अगर दोनों बारिश से धुल भी जाएं तो भी सेमीफाइनल की जगह पक्‍की है. हालांकि टीम इंडिया को टेबल में टॉप पर पहुंचने के लिए बाकी बचे दोनों मैच जीतने होंगे और ऑस्‍ट्रेलिया को अपना आखिरी मैच हारना होगा. भारत को 2 जुलाई को बांग्‍लादेश से मुकाबला करना है. इस मैच में भारत और जीत के बीच सबसे बड़ा रोड़ा हैं शाकिब अल हसन.

शाकिब अल हसन क्‍यों इतने खतरनाक हैं, ये इस वर्ल्‍ड कप में उनका प्रदर्शन बताता है. 6 मैच खेले हैं और उनमें 95.2 के औसत से 476 रन बना चुके हैं. दो शतक जड़े हैं, तीन अर्द्धशतक. स्‍ट्राइक रेट 99.16 है. बल्‍लेबाजी तो एक पक्ष रहा, गेंदबाजी में भी शाकिब स्‍टार साबित हुए हैं. 30.1 के औसत से कुल 10 विकेट झटक चुके हैं, इकॉनमी भी 5.57 की रही है.

बांग्‍लादेश जब भी जीता, शाकिब रहे हीरो

पूरे टूर्नामेंट में शाकिब अल हसन के असर को देखें. उन्‍होंने बांग्‍लादेश के लिए सबसे ज्‍यादा रन बनाए हैं. टीम के रनों का 28.66% शाकिब के बल्‍ले से ही निकला. अपनी टीम के लिए रनों में उनसे ज्‍यादा योगदान न्‍यूजीलैंड के कप्‍तान केन विलियमसन ने किया है. विल‍ियमसन ने वर्ल्‍ड कप 2019 में कीवी टीम के 31.99% रन बनाए हैं.

बांग्‍लादेश ने वर्ल्‍ड कप 2019 में तीन मुकाबले जीते हैं. तीनों में ही शाकिब अल हसन मैन ऑफ द मैच रहे. वह नंबर 3 पर खेल रहे हैं और विश्‍व क्रिकेट के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर्स में अपना नाम दर्ज करा चुके हैं. वह उन पांच क्रिकेटर्स की अनूठी सूची में हैं जिनके नाम वनडे क्रिकेट में 5,000 से ज्‍यादा रन और कम से कम 200 विकेट्स हैं.

शाकिब अल हसन, शाकिब अल हसन से निपट लिए तो टीम इंडिया का सेमीफाइनल टिकट पक्‍का

ऑलराउंडर्स की बात करें तो शाकिब अल हसन का औसत (95.2) वर्ल्‍ड कप इतिहास में सिर्फ लॉन्‍स क्‍लूजनर (1999, 140.5) से कम है. शाकिब के आंकड़े इमरान खान, शॉन पोलाक, क्रिस केयर्न्‍स, अब्‍दुल रज्‍जाक जैसे नामी ऑलराउंडर्स से कहीं बेहतर हैं.

2007 वर्ल्‍ड कप में बांग्‍लादेश ने किया था उलटफेर

भारत सेमीफाइनल में जाने से एक अंक की दूरी पर है लेकिन अगर बांग्लादेश के खिलाफ उसे हार मिलती है तो उसका श्रीलंका के खिलाफ मैच करो या मरो जैसा हाल हो जाएगा. बांग्लादेश किसी भी टीम का खेल बिगाड़ सकती है. 2007 विश्व कप में इसी टीम ने भारत को मात देकर शुरूआती दौर से बाहर कर दिया था. ऐसे में भारत को बांग्लादेश की मौजूदा फॉर्म को देखकर सतर्क रहना होगा.

ये भी पढ़ें

‘खेल-भावना में फेल हो गए चैंपियंस’, भारत की हार पर बौखलाए वकार यूनुस

धोनी की बल्लेबाजी देख हताश गांगुली बोले- क्या करना चाहते हैं समझ नहीं आ रहा