ऑस्ट्रेलिया का अहंकार कैसे तोड़ेगी टीम इंडिया?

टीम इंडिया फिलहाल 3 मैच की टेस्ट सीरीज में 1-0 से आगे है. पुणे टेस्ट में अगर वो जीत हासिल कर लेती है तो टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया 2-0 की अजेय बढ़त बना लेगी. दूसरे टेस्ट मैच जीतकर वो ऑस्ट्रेलिया का गुमान भी तोड़ सकती है.

10 अक्टूबर से पूणे में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच दूसरा टेस्ट मैच शुरू होगा. इस टेस्ट में टीम इंडिया और विराट के पास इतिहास रचने का मौका है. टीम इंडिया अगर टेस्ट सीरीज अपने नाम कर लेती है तो दक्षिण अफ्रीका के साथ साथ ऑस्ट्रेलिया के अहंकार को भी तोड़ देगी.

पुणे में टीम इंडिया एक नहीं बल्कि दो लक्ष्यों के साथ मैदान पर उतरेगी
टीम इंडिया फिलहाल 3 मैच की टेस्ट सीरीज में 1-0 से आगे है. पुणे टेस्ट में अगर वो जीत हासिल कर लेती है तो टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया 2-0 की अजेय बढ़त बना लेगी. दूसरे टेस्ट मैच जीतकर वो ऑस्ट्रेलिया का गुमान भी तोड़ सकती है.

ऑस्ट्रेलिया के गुमान की कहानी पुरानी है
पुणे वही मैदान है जहां साल 2017 में ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को 333 रनों के बड़े अंतर से हराया था. अब इसी मैदान पर ऑस्ट्रेलिया से बदला लेने का मौका है. इस बदले के लिए भारत को दक्षिण अफ्रीका को हराना होगा. दरअसल, पुणे टेस्ट पर अगर भारतीय टीम कब्जा करती है तो सीरीज उसके नाम हो जाएगी, जो घरेलू मैदान पर उसकी लगातार ग्यारहवीं सीरीज जीत होगी.

इससे पहले घरेलू मैदान पर लगातार 10 टेस्ट सीरीज जीतने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के नाम है. ये कारनामा ऑस्ट्रेलिया ने दो बार किया. घरेलू पिचों पर लगातार 11वीं टेस्ट सीरीज जीतने का सपना बहुत हद तक पुणे की पिच पर निर्भर करेगा. 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मिली हार की बड़ी वजह पिच को माना गया था. मैच तीन दिन में खत्म हो गया था और आईसीसी ने यहां की पिच को बेकार करार दिया था. उस वक्त पिच क्यूरेटर की तीखी आलोचना भी हुई थी.

अब दो साल बाद भी इस बात को लेकर सस्पेंस है कि टेस्ट मैच की पिच कैसी होगी
खुद विराट कोहली पिच को लेकर असमंजस में हैं. यही वजह है कि अबतक प्लेइंग इलेवन तय नहीं हुआ है. हालांकि प्लेइंग 11 को लेकर व्यवहारिक पक्ष ये भी है कि विशाखापत्तनम में जिस तरह से भारतीय टीम ने प्रदर्शन किया था उसके बाद टीम में किसी बदलाव की गुजाइश नहीं दिखती नहीं है.
विराट जानते हैं कि हर मैच में जीत का सीधा संबंध टेस्ट चैम्पियनशिप की प्वाइंट्स टेबल से है जिसमें टीम इंडिया फिलहाल टॉप पर है.