IND vs SL: तीसरे T-20 मुकाबले में 78 रन से हारा श्रीलंका, भारत ने जीती साल की पहली सीरीज

भारत का पहला विकेट धवन के रूप में 97 रनों पर गिरा. धवन ने 36 गेंदों का सामना कर सात चौके और एक छक्का लगाया. इसके बाद कप्तान ने पहली बार इस सीरीज में अंतिम एकादश में शामिल किए गए संजू सैमसन को बल्लेबाजी के लिए भेजा.
team India Won Series, IND vs SL: तीसरे T-20 मुकाबले में 78 रन से हारा श्रीलंका, भारत ने जीती साल की पहली सीरीज

पुणे: भारतीय क्रिकेट टीम ने शुक्रवार को यहां के महाराष्ट्र क्रिकेट संघ मैदान पर जारी तीसरे टी-20 मुकाबले में श्रीलंका को 78 रनों से हरा दिया. भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल और शिखर धवन के अर्धशतकों के बाद गेंदबाजों ने दमदार प्रदर्शन किया.

तीसरे टी20 में 78 रन से हराकर 3 मैचों की सीरीज 2-0 से जीत ली. भारत ने 20 ओवर में 6 विकेट पर 201 रन बनाए जिसके बाद श्रीलंकाई टीम 15.5 ओवर में 123 रन पर सिमट गई. भारत ने श्रीलंका के सामने 202 रनों का लक्ष्य रखा है. टॉस हारने के बाद बल्लेबाजी कर रही भारतीय टीम ने लोकेश राहुल (54) और शिखर धवन (52) के बीच पहले विकेट के लिए हुई 97 रनों की साझेदारी के बाद अंतिम समय में मनीष पांडेय (नाबाद 31) और शार्दूल ठाकुर (नाबाद 22) की तूफानी पारियों की बदौलत निर्धारित 20 ओवरों में छह विकेट पर 201 रन बनाए.

भारत का पहला विकेट धवन के रूप में 97 रनों पर गिरा. धवन ने 36 गेंदों का सामना कर सात चौके और एक छक्का लगाया. इसके बाद कप्तान ने पहली बार इस सीरीज में अंतिम एकादश में शामिल किए गए संजू सैमसन को बल्लेबाजी के लिए भेजा. सैमसन ने आते ही छक्के के साथ उद्घाटन किया लेकिन दो गेंदों का सामना करने के बाद वह छह रन बनाकर आउट हो गए.

इसके बाद राहुल का विकेट गिरा. राहुल ने 36 गेदों का सामना कर पांच चौके और एक छक्का लगाया. राहुल का विकेट 118 के कुल योग पे गिरा. इसके बाद आए श्रेयश अय्यर भी अधिक देर विकेट पर नहीं टिक सके और दो गेंदों का सामना कर एक चौका लगाने के बाद 122 के कुल योग पर आउट हुए. धवन, राहुल और अय्यर के विकेट लक्षन संदाकन ने लिए जबकि सैमसन को वानिंदू हासारांगा ने आउट किया.

कप्तान विराट कोहली (26) ने मनीष पांडेय के साथ मिलकर स्कोर को 150 के पार पहुंचाया लेकिन 164 के कुल योग पर कोहली रन आउट हो गए. कोहली ने 17 गेंदों का सामना कर दो चौके और एक छक्का लगाया. उनका विकेट 18वें ओवर की तीसरी गेंद पर गिरा और अगली ही गेंद पर वॉशिंगटन सुंदर (0) भी चलते बने.

इसके बाद पांडेय और शार्दूल ने टीम को कोई और नुकसान नहीं होने दिया. इन दोनों ने 14 गेंदों पर 37 रन जोड़े. पांडेय 18 गेंदों का सामना कर चार चौके लगाकर नाबाद लौटे जबकि शार्दूल ने आठ गेंदों की तूफानी पारी में एक चौका और दो छक्के लगाए. श्रीलंका की ओर से संदाकन और वानिंदू के अलावा लाहिरू कुमारा को एक सफलता मिली.

Related Posts