इंग्लैंड को हराकर वर्ल्ड चैंपियन बना भारत, जीता फिजिकल डिसेबिलिटी वर्ल्ड सीरीज का खिताब

भारतीय टीम ने फिजिकल डिसएबिलिटी वर्ल्ड सीरीज 2019 के फाइनल में इंग्लैंड को 36 रनों से हराकर ट्रॉफी पर कब्ज़ा जमाया.

लंदन. भारतीय टीम ने फिजिकल डिसेबिलिटी वर्ल्ड सीरीज 2019 के फाइनल मुकाबले में मेजबान इंग्लैंड को वोर्सस्टर के न्यू रोड स्टेडियम में हराकर ट्राफी पर कब्जा जमाया. भारतीय टीम ने इंग्लैंड को मंगलवार को 36 रन से हराकर ट्राफी जीती. छह देशों के इस टूर्नामेंट का आयोजन इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) द्वारा किया गया था.

भारतीय जीत में सबसे अहम भूमिका रवींद्र सांते ने निभाई. उन्होंने 34 गेंदों ने तेज तर्रार 53 रन की पारी खेली. पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने निर्धारित 20 ओवर में  180 रन का बड़ा टारगेट खड़ा किया और इसे आसानी से डिफेंड भी कर लिया. भारतीय टीम ने शानदार ऑल-राउंड प्रदर्शन किया. पूरे टूर्नामेंट में भारतीय टीम ने अच्छी क्रिकेट खेली.

भारतीय टीम ने टॉस जीता और कप्तान विक्रांत केनी ने पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया. सलामी बल्लेबाज कुनाल फनासे और वसीम खान टीम को अच्छी शुरुआत दिलाने में फेल रहे. भारत ने पहला विकेट पहले ही ओवर में खो दिया. खान 0 रन बनाकर चलते बने. इसके बाद कप्तान केनी (29) और फनासे (36) के बीच दूसरे विकेट के लिए 46 रन की साझेदारी हुई.

इन दोनों के आउट होने के बाद सांते अच्छी लय में दिखे और पचासा ठोका. उनकी 53 रन की पारी में 2 चौके और 4 छक्के शामिल थे. उन्होंने सुगनेश महेंद्रन (33) के साथ मिलकर टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचाया. इंग्लैंड के लिए लियाम ओ ब्रियान ने 4 ओवर में 35 रन खर्च 2 विकेट झटके.

इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए इंग्लैंड को 144 रन के स्कोर पर समेट दिया. सलमे बल्लेबाज एंगस ब्रो ने 32 गेंदों में सर्वाधिक 44 रन की पारी खेली. फनासे और सनी गोयत ने 2-2 विकेट झटके. इससे पहले भारतीय टीम ने राउंड रोबिन के आखिरी मैच में पाकिस्तान को 8 विकेट से हराकर फाइनल में जगह बनाई थी. इंग्लैंड ने अफगानिस्तान के खिलाफ जीत दर्ज कर फाइनल में जगह बनाई थी.

ये भी पढ़ें: फरीदाबाद DCP विक्रम कपूर ने किया सुसाइड, खुद की सर्विस रिवाल्वर से मारी गोली

ये भी पढ़ें: IND vs WI: इतिहास रचने के करीब ‘चाइनामैन’ कुलदीप यादव, निशाने पर शमी-बुमराह का ये रिकॉर्ड