पहलवान बजरंग का स्वर्णिम सफर जारी, जीता इस सत्र का चौथा गोल्ड मेडल

एशियाई चैम्पियन बजरंग के लिए यह सत्र का चौथा स्वर्ण था. वह तबिलिसी और एशियाई चैम्पियन के अलावा दान कोलोव और अली अलीएव टूर्नामेंट में पोडियम पर रहे.
Bajrang Punia, पहलवान बजरंग का स्वर्णिम सफर जारी, जीता इस सत्र का चौथा गोल्ड मेडल

नई दिल्ली. भारत के दो शीर्ष पहलवानों ने अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में शानदार लय जारी रखी है, जिनमें बजरंग पूनिया ने तबिलिसी ग्रां प्री में अपने खिताब का बचाव किया तो वहीं विनेश फोगाट मेडवेड कुश्ती टूर्नामेंट में चौथी बार फाइनल में पहुंची.

जार्जिया में खेले गए तबिलिसी ग्रां प्री में पिछले साल स्वर्ण जीतने वाले बजरंग ने पुरूषों के फ्री-स्टाइल कुश्ती के फाइनल में ईरान के पेइमन बिब्यानी को 2-0 से पटखनी दी. एशियाई चैम्पियन बजरंग के लिए यह सत्र का चौथा स्वर्ण था. वह तबिलिसी और एशियाई चैम्पियन के अलावा दान कोलोव और अली अलीएव टूर्नामेंट में पोडियम पर रहे.

बेलारूस के मिन्स्क में मेडवेड कुश्ती टूर्नामेंट में विनेश ने महिलाओं के 53 किग्रा भार वार्ग में स्थानीय पहलवान याफ्रेमेनका को एकतरफा मुकाबले में 11-0 की करारी शिकस्त दी. विनेश ने शुरूआत में विरोधी पहलवान के बायें-पैर पर हमला किया लेकिन वह इसका फायदा नहीं उठा सकी. बेलारूस की खिलाड़ी की लचर खेला का हालांकि विनेश को फायदा मिला.

दूसरे पीरियड में विनेश ने ज्यादा आक्रामक रूख अपनाया. उन्होंने फिर से विरोधी पहलवान के बायें पैर पर अपनी पकड़ बनाकर दो अंक हासिल किये. उन्होंने याफ्रेमेनका को चौकाते हुए दायें पैर पर हमला किया और चार अंक जुटाये. विनेश ने इसके बाद दवाव में आयी विरोधी पर एक और फिर दो अंक हासिल किये.

फाइनल में उनका सामना रूस की एन मालिशेवा से होगा जिन्होंने एक अन्य सेमीफाइनल में स्थानीय खिलाड़ी पिचोकोउस्के को 6-0 से हराया. विनेश मौजूदा सत्र में स्पेन ग्रांप्री, यासर दोगू अंतरराष्ट्रीय और पोलैंड ओपन में शीर्ष पर रही है.

ओलंपिक के बाद संगीता फोगाट से शादी करेंगे बजरंग

वर्ल्ड नंबर-1 पहलवान भारत के बजरंग पूनिया फोगाट बहनों में सबसे छोटी संगीता फोगाट से जल्द ही शादी करेंगे. दोनों पहलवानों की शादी अगले साल होने वाले टोक्यो ओलम्पिक के बाद होगी. फोगाट परिवार के एक सदस्य ने आईएएनएस से कहा कि 65 किग्रा वर्ग में लड़ने वाले पहलवान बजरंग और पूर्व राष्ट्रीय पदक विजेता संगीता ने शादी करने के बारे में अपने-अपने परिवारों को बता दिया है. संगीता महिलाओं के 59 किग्रा वर्ग में मुकाबला करती हैं. संगीता के पिता महावीर ने मीडिया से कहा कि बच्चों का यह निर्णय था और उन्होंने उनकी भावनाओं की कद्र की.

ये भी पढ़ें: अब अफगानिस्तान के लिए क्रिकेट नहीं खेल पाएंगे मोहम्मद शहजाद, बोर्ड ने खत्म किया कॉन्ट्रैक्ट

ये भी पढ़ें: IND vs WI: खतरे में है मियांदाद का 26 साल पुराना रिकॉर्ड, सिर्फ 19 रन पीछे हैं विराट कोहली

Related Posts