IPL 12: राणा और रसल की शानदार पारी के बावजूद RCB ने KKR को दी करारी शिकस्त

इस जीत के साथ बेंगलोर ने इस सीजन के प्ले-ऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है.

कोलकाता: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन काा मैच शुक्रवार को ईडन गार्डन में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच खेला गया. इस मैच में कोलाकाता के नीतीश राणा और आंद्रे रसल ने टीम के लिए शानदार पारी खेली, लेकिन यह पारी टीम को जीत नहीं दिला पाई.

नीतीश राणा (नाबाद 85) और आंद्रे रसल (65) की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के बावजूद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने कोलकाता नाइट राइडर्स को 10 रनों से शिकस्त दी.

कोलकाता की टीम ने 214 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए निर्धारित 20 ओवर में पांच विकेट खोकर 203 रन बनाए. राणा ने 46 गेंदों की अपनी पारी में नौ चौक्के और पांच छक्के लगाए, जबकि रसल ने 25 गेंदों की अपनी पारी में दो चौक्के और नौ छक्के लगाए.

इस जीत के साथ बेंगलोर ने इस सीजन के प्ले-ऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है.

इस मैच में कोलकाता की शुरुआत बेहद खराब रही. 9 साल बेंगलोर के लिए खेल रहे दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने सलामी बल्लेबाज को एक रन के निजी स्कोर पर ही आउट कर दिया.

सुनील नरेन (18) ने तेजी से रन बनाने का प्रयास किया, लेकिन 24 के कुल स्कोर पर नवदीप सैनी ने उन्हें पवेलियन भेजकर पॉवरप्ले में बड़ा स्कोर बनाने के मेजबान टीम के सपने को पूरा नहीं होने दिया. खराब फॉर्म से जूझ रहे युवा बल्लेबाज शुभमन गिल (9) को स्टेन ने अपना दूसरा शिकार बनाकर कोलकाता को खराब स्थिति में पहुंचाया.

रॉबिन उथप्पा ने नीतीश राणा के साथ मिलकर कोलकाता की पारी को आगे बढ़ाया. मेजबान टीम के कुल स्कोर में अभी 46 रन ही जुड़े थे कि हरफनमौला खिलाड़ी मार्कस स्टोइनिस, उथप्पा (9) को पवेलियन भेजने में कामयाब रहे.

इसके बाद, रसल क्रीज पर आए और उन्होंने राणा के साथ मिलकर कोलकाता की पारी को दोगुनी तेजी से आगे बढ़ाया. रसल ने 15वें ओवर में स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल की तीन गेंदों पर तीन छक्के लगाकर अपने इरादे साफ जाहिर कर दिए.

दूसरे छोर से राणा ने भी गेंदबाज को किसी प्रकार की राहत नहीं दी. उन्होंने छक्के के साथ अपना अर्धशतक पूरा किया. आखिरी तीन ओवर में कोलकाता को जीत के लिए 61 रन चाहिए थे. राणा ने स्टेन के ओवर में 18 रन जड़कर अपनी टीम की जीत की उम्मीदों को जिंदा रखा.

स्टोइनिस ने 19वें में ओवर में 19 रन दिए और मैच रोमांचक मोड़ पर पहुंच गया. कप्तान विराट कोहली आखिरी ओवर में मोइन अली को गेंदबाजी पर लेकर आए. उनका यह दांव सही साबित हुआ. रसेल रन आउट हुए. उनके और राणा के बीच पांचवें विकेट के लिए 118 रनों की बड़ी साझेदारी हुई. मेहमान टीम के लिए स्टेन ने दो जबकि सैनी और स्टोइनिस ने एक-एक विकेट चटकाए.

इससे पहले, टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी बेंगलोर की शुरुआत खराब रही और 18 के कुल योग पर उसे पहला झटका लगा.

सलामी बल्लेबाज पार्थिव पटेल को 11 के निजी स्कोर पर आउट करके सुनील नरेन ने बेंगलोर को पहला झटका दिया. जल्द विकेट खोने के कारण मेहमान टीम पावरप्ले का कुछ खास फायदा नहीं उठा पाई और पहले छह ओवर में 42 रन बनाए.

दूसरे विकेट के लिए कोहली और अक्षदीप नाथ (13) के बीच 41 रनों की साझेदारी हुई. नाथ को हरफनमौला खिलाड़ी आंद्रे रसल ने पवेलियन भेजा.

इसके बाद, कोहली और इंग्लैंड के मोइन अली ने तेजी से रन बनाए. दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 90 रनों की साझेदारी निभाई. अली को 66 के निजी स्कोर पर प्रसिद्ध कृष्णा के हाथों कैच कराकर कुलदीप यादव ने मेजबान टीम के लिए खतरनाक दिख रही इस साझेदारी को तोड़ने में कमयाबी पाई.

अली ने महज 28 गेंदों की अपनी पारी में पांच चौके और छह छक्के जड़े. कोहली एक छोर पर डटे रहे. उन्होंने आक्रामक बल्लेबाजी की और कोलकाता के किसी गेंदबाज को नहीं छोड़ा.

पारी के आखिरी ओवर की पांचवीं गेंद पर हैरी गर्नले को चौका मारकर कोहली ने अपना शतक पूरा किया. पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए हरफनमौला खिलाड़ी मार्कस स्टोइनिस 17 रन बनाकर नाबाद रहे.

कोलकाता की ओर से नरेन, रसेल, कुलदीप और गर्नले ने एक-एक विकेट लिए.