आज साफ हो जाएगी IPL की पूरी तस्वीर, गवर्निंग काउंसिल की बैठक में लिए जा सकते हैं कई बड़े फैसले

COVID-19 के मद्देनजर गवर्निंग काउंसिल (IPL Governing Council) की बैठक में स्टैंडर्ट ऑपरेटिंग प्रोसिजर पर भी बातचीत होगी. खिलाड़ियों को और सपोर्ट स्टाफ को ‘डू और डोंट’ की जानकारी विस्तार से देनी होगी.
IPL Governing Council Meeting, आज साफ हो जाएगी IPL की पूरी तस्वीर, गवर्निंग काउंसिल की बैठक में लिए जा सकते हैं कई बड़े फैसले

रविवार को आईपीएल गर्वनिंग काउंसिल (IPL Governing Council) की अहम बैठक है. इस बैठक से IPL-2020  की तस्वीर साफ हो जाएगी. IPL मैचों का शेड्यूल, बायो सेक्योर जोन, कोरोना टेस्ट, विदेशी खिलाड़ियों की उपलब्धता, खिलाड़ियों के परिवार वालों को मंजूरी और वीजा जैसे बड़े मुद्दों पर अंतिम फैसला लिया जा सकता है.

गवर्निंग काउंसिल की बैठक के बारे में आगे बढ़ने से पहले आपको बता दें कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने पहले ही ऐलान कर दिया है कि इस साल का IPL यूएई में खेला जाएगा. अब बस उसे भारत सरकार से हरी झंडी मिलने का इंतजार है. कोरोना की वजह से आईपीएल का 2020 सीजन अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया था.

आईपीएल टीम मालिकों की रहेगी नजर

आईपीएल टीम मालिकों से जुड़े सूत्रों के हवाले से बैठक का हवाला देते हुए कहा गया, “हमें अभी आईपीएल का पूरा कार्यक्रम नहीं बताया गया है. उसके बाद ही हम खिलाड़ियों के वीजा की तैयारी करेंगे. ये भी तय करना होगा कि खिलाड़ियों का वीजा किस कैटेगरी में अप्लाई करना है.

बीसीसीआई को इन सारी बातों पर हमें गाइड करना होगा. इसके अलावा फाइनल की तारीख के बारे में भी सही जानकारी चाहिए होगी. पहले 9 नवंबर को फाइनल बताया गया था. लेकिन फिर उसे एक दिन टालने की खबर भी आई थी. कुल मिलाकर पूरी तस्वीर साफ होनी चाहिए”.

स्टैंडर्ट ऑपरेटिंग प्रोसिजर पर भी होगी बातचीत

COVID-19 के मद्देनजर गवर्निंग काउंसिल की बैठक में स्टैंडर्ट ऑपरेटिंग प्रोसिजर पर भी बातचीत होगी. खिलाड़ियों को और सपोर्ट स्टाफ को ‘डू और डोंट’ की जानकारी विस्तार से देनी होगी. इसके अलावा बायो सेक्योर जोन में किसे जाने की अनुमति होगी और किसे नहीं ये भी एक अहम मुद्दा होगा.

अगर खिलाड़ी बाहर का खाना चाहते हैं तो क्या करना होगा? चोट लगने की सूरत में खिलाड़ी का ‘रीप्लेसमेंट’ कैसे होगा? इसके अलावा यूएई पहुंचने पर खिलाड़ियों को क्वॉरेंटीन करने के क्या नियम होंगे? इस तरह के तमाम सवालों पर आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की बैठक में चर्चा होगी.

इसके अलावा दो और बड़े मुद्दों पर फैसला हो सकता है. जिसमें पहला मुद्दा है- आईपीएल मैचों के दौरान स्टेडियम में दर्शकों की मौजूदगी और दूसरा मुद्दा है आईपीएल की स्पॉन्सशिप. हालांकि इस मुद्दे पर अभी बीसीसीआई की तरफ से कुछ कहा नहीं जा रहा है.

आपको याद दिला दें कि पिछले दिनों आईपीएल में चीन की कंपनी की स्पॉन्सरशिप को लेकर काफी नाराजगी जाहिर की गई थी. क्योंकि भारत में इन दिनों जमकर चीन का विरोध हो रहा है. उस वक्त बीसीसीआई सूत्रों की तरफ से ये खबर आई भी थी कि गवर्निंग काउंसिल की बैठक में स्पॉन्सरशिप के मुद्दे पर बातचीत होगी.

Related Posts