Happy Birthday Yuvi: जब स्टुअर्ट ब्रॉड ने कहा ‘युवराज की उस पारी ने मुझे गेंदबाज बना दिया’

आज युवराज सिंह 38 साल के हो गए हैं. युवी ने 10 जून 2019 को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. उन्हें टीम इंडिया के मिडिल आर्डर बैटिंग की रीढ़ कहा जाता था.

युवराज सिंह का नाम सनुते ही आंखों के सामने आती है उनकी वो पारी जिसमें उनके चेहरा का गुस्सा उनके बल्ले से होते हुए सामने वाली टीम को दनादना धो रहा था. आज युवराज सिंह 38 साल के हो गए हैं. युवी ने 10 जून 2019 को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. उन्हें टीम इंडिया के मिडिल आर्डर बैटिंग की रीढ़ कहा जाता था. एक दशक से भी ज्यादा युवराज टीम इंडिया के संकटमोचन रहे हैं.

युवी ने न केवल बल्लेबाजी बल्कि गेंदबाजी में भी अपना लोहा मनवाया है. युवराज सिंह के 19 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर में काफी उतार-चढ़ाव भी रहा है. इसके बावजूद उन्होंने अपने ऑलराउंड प्रदर्शन से करोड़ों प्रशंसकों को दीवाना बनाया है.

युवराज की वो पारी….
युवराज सिंह ने अपने करियर में एक ऐसी पारी खेली जिसे लोग आज भी याद करते हैं. 19 सितंबर साल 2007, मौका था पहला टी-20 वर्ल्ड कप का जो की दक्षिण अफ्रीका में खेला जा रहा था. जब युवराज ने 6 गेंद पर 6 छक्के लगा कर इतिहास रचा था.

दरअसल भारत और इंग्लैंड के बीच खेले जा रहे मैच में इंग्लैंड के गेंदबाज एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने युवराज की तरफ भद्दे इशारे किए थे.

जब यह विवाद हुआ तो वो भारत की पारी का 18वां ओवर था. 19वां ओवर ब्रॉड को डालना था, और स्ट्राइक पर थे युवी. बस फिर क्या था फ्लिंटॉफ की गलती का खामियाजा स्टुअर्ट ब्रॉड को भुगतना पड़ा. युवराज ने ब्रॉड की सभी गेंदों को सीमा रेखा के पार पहुंचाया. दूसरे छोर पर खड़े कप्तान महेंद्र सिंह धोनी युवी को बस देखते रहे.

पारी एक रिकॉर्ड अनेक
युवराज की इस धुंआधार पारी ने कई रिकॉर्ड तोड़े. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अफ्रीकी धुरंधर हर्शल गिब्स के बाद एक ओवर में छह छक्के मारने वाले युवी दूसरे बल्लेबाज बने थे. इसके अलावा युवराज ने इस दौरान 12 गेंदों में ही अपना अर्धशतक पूरा कर लिया था, जो आज भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों में रिकॉर्ड है.

युवी ने इस मैच में कुल 16 गेंदों में 58 रन बनाए इस दौरान उन्होंने 7 छक्के और 3 चौके मारे. युवी की पारी के दम पर ही भारत ने उस मैच में 218/4 रनों का स्कोर बनाया और इंग्लैंड को 18 रनों से हराया था. बाद में फाइनल में भारत ने पाकिस्तान को हराकर खिताब अपने नाम किया था.

युवी की उस पारी ने मुझे बनाया गेंदबाज
युवराज की इस छक्केमार में सबसे ज्यादा नुकसान उठाने वाले स्टुअर्ट ब्रॉड ने कहा था कि उनके 6 छक्कों ने मुझे गेंदबाज बना दिया. युवराज के संन्यास के बाद ब्रॉर्ड ने यह बात एक इंटरव्यू में कही थी, उन्होंने कहा, “युवी ने मुझे 6 छक्के जड़कर गेंदबाज बना दिया. जिस वक्त उन्होंने मुझे 6 छक्के मारे थे, उस वक्त मैं 21 साल का था. डेथ ओवर में गेंदबाजी करने का अनुभव नहीं था. इस मैच में युवराज गेंद को बहुत अच्छी तरह हिट कर रहे थे. उस दिन स्लोअर-यॉर्कर कोई भी डिलिवरी मेरा साथ नहीं दे रही थी.”

ये भी पढ़ें: IND vs WI: सीरीज गंवाने के बाद बोले पोलार्ड, विराट कोहली वर्ल्ड क्लास बल्लेबाज